आयुष्मान भारत कार्ड 2022 | डाउनलोड करे, Ayushman Bharat Arogya Card

आयुष्मान भारत कार्ड ऑनलाइन आवेदन करे और Ayushman Card डाउनलोड करे, जाने आयुष्मान गोल्डन कार्ड के लाभ, विशेषताएं व सभी उपयोग

सरकार द्वारा देश के प्रत्येक नागरिक तक स्वास्थ्य सेवाएं सुनिश्चित करने के उद्देश्य से आयुष्मान भारत योजना का शुभारंभ किया गया था। Ayushman Bharat Yojana के माध्यम से लाभार्थियों को 5 लाख रुपए तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है। आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए पात्र नागरिकों को पंजीकरण करवाना होता है। जिसके पश्चात उनको Ayushman Bharat Card प्रदान किया जाता है। इस कार्ड को अस्पताल में दिखा कर लाभार्थी 5 लाख रुपए का मुफ्त उपचार की सुविधा प्राप्त कर सकते हैं। इस लेख के माध्यम से आपको आयुष्मान भारत आरोग्य कार्ड का पूरा ब्यौरा प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा Ayushman Yojana से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण जानकारी एवं गोल्डन कार्ड डाउनलोड करने की प्रक्रिया से भी अवगत कराया जाएगा। तो आइए जानते हैं कैसे प्राप्त करें।

Ayushman Bharat Card 2022

 आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड देश के हर गरीब लोगो को लाभ पहुंचाने के लिए उपलब्ध कराये जा रहे है यह स्वर्ण कार्ड केवल उन लोगो को मिलेंगे जिनका नाम आयुष्मान भारत लाभार्थी सूची में आएगा | देश के जो लोग इच्छुक लाभार्थी अपना गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते है तो वह बड़ी ही आसानी वह अपने नज़दीकी जन सेवा केंद्र में जाकर आवेदन कर सकते है और वही से ही Ayushman Bharat Card भी बनवा सकते है | प्यारे दोस्तों आज हम आपको अपने इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना से जुडी सभी जानकारी जैसे आप  किस प्रकार स्वर्ण कार्ड बनवा सकते है ,लाभ आदि प्रदान करने जा रहे है अतःहमारे इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े और लाभ उठाये |

सीधे सूचीबद्ध अस्पताल से प्राप्त किया जा सकता है योजना का लाभ

आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना पात्रता आधारित योजना है जिसके अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थियों को नामांकन या पंजीकरण करवाने की आवश्यकता नहीं है। लाभार्थियों  सीधे कैशलेस उपचार प्राप्त करने के लिए सूचीबद्ध अस्पताल जा सकते हैं। प्रत्येक सूचीबद्ध अस्पताल में प्रधानमंत्री आरोग्य मित्र होता है जो लाभार्थियों को योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए सभी आवश्यक सहायता प्रदान करता है। आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन का उद्देश्य स्वास्थ्य परिस्थितिकी तंत्र के भीतर स्वास्थ्य डेटा की इंटर ऑपरेबिलिटी को सक्षम करने वाला एक ऑनलाइन प्लेटफॉर्म बनाना है। जिसके माध्यम से प्रत्येक नागरिक का इलेक्ट्रॉनिक स्वास्थ्य रिकॉर्ड बनाया जा सकेगा। इस योजना के माध्यम से नागरिकों के लिए स्वास्थ्य सेवा को सुलभ बनाया जा सकेगा।

कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग और स्ट्रोक की रोकथाम के लिए प्रदान की गई आर्थिक सहायता

सरकार द्वारा सदन में यह जानकारी प्रदान की थी सन 2021-22 के दौरान कैंसर, मधुमेह, हृदय रोग और स्ट्रोक की रोकथाम और नियंत्रण के लिए राष्ट्रीय कार्यक्रम के अंतर्गत राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों को 561178.07 लाख रुपए प्रदान किए गए है। एनपीसीडीसीएस के तहत सामान्य एनसीडी का इलाज सुनिश्चित करने के लिए जिला स्तर पर 677 एनसीडी क्लीनिक, 187 जिला कार्डियक केयर यूनिट, 266 जिला डे केयर सेंटर और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र स्टार पर 5392 एनसीडी क्लीनिक स्थापित किए गए हैं। इसके अलावा स्वास्थ्य देखभाल के लिए देश में मधुमेह, उच्च रक्तचाप और सामान्य कैंसर जैसे सामान्य गैर संचारी रोगों की रोकथाम, नियंत्रण एवं जांच के लिए जनसंख्या आधारित पहल शुरू की गई है। इस पहल के अंतर्गत 30 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति की स्क्रीनिंग की जाएगी।

अटल पेंशन योजना

Ayushman Bharat Golden Card In Highlights

योजना का नामआयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड
इनके द्वारा शुरू की गयीकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के नागरिक
उद्देश्यगोल्डन कार्ड प्रदान करना
ऑफिसियल वेबसाइट https://pmjay.gov.in/

हरियाणा में किया जा रहा है आयुष्मान भारत पखवाड़ा कार्यक्रम का आयोजन

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से पात्र नागरिकों को प्रतिवर्ष ₹500000 तक का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा प्रदान किया जाता है। हरियाणा सरकार द्वारा 20 सितंबर 2021 को आयुष्मान भारत योजना के सभी पात्र नागरिकों से अपना आयुष्मान कार्ड बनवाने का आयुष्मान भारत पखवाड़ा के अंतर्गत आग्रह किया गया है। आयुष्मान भारत पखवाड़ा कार्यक्रम हरियाणा में 15 सितंबर 2021 से 30 सितंबर 2021 तक संचालित किया जा रहा है। जिसके माध्यम से प्रदेश के पात्र नागरिक अपना आयुष्मान कार्ड अटल सेवा केंद्र या फिर किसी भी लिस्टेड सरकारी या निजी अस्पताल से बनवा सकते हैं।

आयुष्मान कार्ड बनवाने के लिए पात्र नागरिकों को अपना आधार कार्ड, राशन कार्ड एवं परिवार पहचान पत्र की प्रति जमा करनी होगी। यह कार्ड बनवाने के लिए आपको किसी भी प्रकार की फीस का भुगतान करने की आवश्यकता नहीं है। इस संबंध में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए नागरिक 14555 पर संपर्क कर सकते हैं।

Ayushman Card बनवाने में जम्मू-कश्मीर आया देश के पांच शीर्ष राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों में

जम्मू कश्मीर में पिछले 6 महीने में लगभग 19 लाख आयुष्मान कार्ड बनाए गए हैं। जम्मू कश्मीर अब देश के उन 5 राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में शामिल हो गया है जिनमें सबसे अधिक Ayushman Bharat Card बनाए गए हैं। इस बात की जानकारी भारत सरकार की नेशनल हेल्थ अथॉरिटी के माध्यम से प्रदान की गई है। इस योजना को 26 दिसंबर 2020 को हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा जम्मू कश्मीर में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना सेहत के नाम से आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक परिवार को ₹500000 का हेल्थ इंश्योरेंस प्रदान किया जाता है। वह सभी लाभ इस योजना के माध्यम से प्रदान किए जाएंगे जो आयुष्मान भारत योजना के माध्यम से प्रदान किए जाते हैं।

  • इस योजना का लाभ जम्मू कश्मीर के सभी नागरिक उठा सकते हैं चाहे वह सरकारी नौकर हो या पेंशनर हो। अस्पताल में भर्ती होने के 3 दिन पहले एवं 15 दिन बाद तक के खर्च का प्रावधान इस योजना के अंतर्गत निर्धारित किया गया है।
  • Ayushman Bharat Arogya Card Yojana के लाभार्थी देश के 24000 पंजीकृत अस्पतालों में से किसी भी अस्पताल में अपना इलाज करवा सकते हैं। जम्मू-कश्मीर में लगभग 226 पंजीकृत अस्पताल है। जम्मू कश्मीर के राज्यपाल द्वारा इस योजना की निगरानी की जाती है।
  • इस योजना का लाभ सभी नागरिकों तक पहुंचाने के लिए गांव-गांव आयुष्मान अभियान आरंभ किया गया है। इसके अलावा कई जगहों पर कैंप का भी आयोजन किया जाता है। इन कैंप का सहयोग पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधि द्वारा भी किया जाता है।

आपके द्वार आयुष्मान अभियान के अंतर्गत किया गया 9 लाख लाभार्थियों का सत्यापन

1 फरवरी 2021 से आपके द्वार आयुष्मान अभियान आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत संचालित किया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत ग्रामीण एवं पिछड़े हिस्सों में रहने वाले लाभार्थियों को आयुष्मान योजना की जानकारी प्रदान की जा रही है। इसी के साथ उन्हें इस योजना के अंतर्गत आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है। इस समय यह अभियान पंजाब, जम्मू-कश्मीर, हरियाणा, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, उत्तराखंड तथा अन्य केंद्र शासित प्रदेशों में संचालित किया जा रहा है। इस अभियान के अंतर्गत लाभार्थियों का सत्यापन भी किया जाता है। जिसके पश्चात उनका गोल्डन कार्ड बनवाने की प्रक्रिया आरंभ कर दी जाती है। लाभार्थी द्वारा गोल्डन कार्ड सीएससी केंद्र और यूटीआईआईटीएसएल केंद्र से भी निशुल्क प्राप्त किया जा सकता है।

इस अभियान के अंतर्गत 25 मार्च 2021 को 9.42 लाख आयुष्मान लाभार्थियों का सत्यापन किया गया है। यह संख्या एक ऐतिहासिक संख्या बन गई है। केवल छत्तीसगढ़ से ही 6 लाख से ज्यादा लाभार्थियों का सत्यापन किया गया है। आपके द्वार आयुष्मान अभियान के अंतर्गत पहली बार एक दिन में इतनी बड़ी संख्या में लाभार्थियों का सत्यापन किया गया है।

प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना

आपके द्वार आयुष्मान अभियान के अंतर्गत किए गए सत्यापित लाभार्थियों की संख्या

राज्य का नामसंख्या
छत्तीसगढ़6 लाख
मध्य प्रदेश1,23,488
उत्तर प्रदेश80,377
पंजाब38,488
उत्तराखंड7,460
हरियाणा8,247
बिहार16,070

Ayushman Bharat Golden Card बनवाना हुआ फ्री

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं आयुष्मान योजना सरकार द्वारा 2017 में लांच की गई थी। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों को ₹500000 तक का हेल्थ इंश्योरेंस कवर प्रदान किया जाता है। इस योजना का लाभ लगभग 1 करोड़ 63 लाख से ज्यादा लाभार्थी उठा रहे हैं। आयुष्मान भारत कार्ड के माध्यम से लाभार्थी किसी भी निजी अस्पताल में जाकर अपना इलाज करवा सकते हैं।

  • इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा पात्रता कार्ड को फ्री कर दिया है। जिसके लिए ₹30 शुल्क का भुगतान करना पड़ता था। इस फैसले से गरीब परिवारों को काफी राहत मिलेगी। आयुष्मान भारत योजना के लाभार्थी पात्रता कार्ड बनवाने के लिए सामान्य सेवा केंद्र से संपर्क करते थे और ग्रामीण स्तर के ऑपरेटर को ₹30 का भुगतान करते थे।
  • जिसके बाद उन्हें कार्ड प्राप्त होता था। लेकिन अब यह कार्ड प्राप्त करना पूरी तरह से फ्री है। लेकिन यदि आपको डुप्लीकेट कार्ड बनवाना है या आपको कार्ड को दोबारा से प्रिंट करना है तो आपको ₹15 का भुगतान करना होगा। यह कार्ड लाभार्थियों को बायोमेट्रिक ऑथेंटिकेशन के बाद प्रदान किया जाएगा।

एनएचए का सीएससी से समझौता

नेशनल हेल्थ अथॉरिटी ने सीएससी के साथ समझौता किया है। जिसके अंतर्गत यह तय किया गया है कि पहली बार आयुष्मान कार्ड जारी होने पर नेशनल हेल्थ अथॉरिटी सीएससी को ₹20 का भुगतान करेगी। जिससे कि सिस्टम को और बेहतर बनाया जा सके। इस समझौते का एक उद्देश्य यह भी है कि इस योजना के अंतर्गत पीवीसी आयुष्मान कार्ड तैयार किया जा सके। आपको बता दें कि आयुष्मान भारत योजना का लाभ लेने के लिए पीवीसी कार्ड बनवाना अनिवार्य नहीं है। जिन लाभार्थियों के पास पुराने कार्ड है उन्हें इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। पीवीसी कार्ड बनवाने का एक उद्देश्य यह है कि इसके माध्यम से अधिकारियों को लाभार्थी की पहचान करने में आसानी होती है।

Ayushman Bharat Jan Arogya Card [email protected]

देश के गरीब लोग जो आर्थिक रूप से कमज़ोर होने के कारण अपनी बीमारी का इलाज नहीं करवा पाते और अपनी बीमारी से  जूझते रहते है उन लोगो के लिए भारत सरकार ने सभी गरीब लोगो के  Ayushman Bharat Golden Card 2022 बनाने के आदेश दिए है इस स्वर्ण कार्ड के ज़रिये वह अपनी बड़ी से बड़ी बीमारी का इलाज मुफ्त में करा सकते है उन लोगो को सरकार 5 लाख रूप तक का स्वास्थ्य बीमा प्रदान कर रही है | इस योजना के तहत लोग बड़ी ही आसानी  से अपना गोल्डन कार्ड प्राप्त कर सकते है | आयुष्मान कार्ड देश के हर ग्रामीण और शहरी क्षेत्रो में बनाये जा रहे है जिन लोगो के अभी तक स्वर्ण कार्ड नहीं बनवाये है वह जल्द से जल्द बनवा ले |

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड (PMJAY) का उद्देश्य

इस PMJAY Golden Card देश को उपलब्ध करवाने का सरकार का उद्देश्य देश के हर गरीबी रेख से नीचे आने वाले परिवारों को 5 लाख रूपये तक का स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध करना और उनकी आर्थिक रूप से मदद करना | जैसे कि आप लोग जानते है आज भी देश बहुत से लोग किसी न किसी बीमारी से ग्रसित है और उनके पास अपना इलाज करवाने के लिए पैसे नहीं होते इन सभी परेशानियो के देखते हुए केंद्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना को शुरू किया है जिससे किसी  भी गरीब आदमी को बीमारी से बचाया जा सके |इस योजना के तहत सालाना  देश के लगभग  10 करोड़ से अधिक गरीब परिवारों को स्वास्थ्य बीमा मिल रहा है |

आयुष्मान भारत योजना 2022

इस योजना को हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वर्ष 2018 में राष्ट्रीय स्वास्थ्य संरक्षण मिशन के अंतर्गत  शुरू की गयी है | जन आरोग्य योजना 2022 के अंतर्गत देश के आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवारों को 5 लाख रूपये तक का स्वास्थ्य बीमा केंद्र सरकार की तरफ से प्रदान किया जा रहा है जिससे लोग  अपनी बीमारी का अस्पतालों में 5 लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज करवा सकते है यह योजना देश सबसे बड़ी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना है जिससे भारत देश को स्वस्थ बनाने में सहायता मिलेगी |

पीएम जन आरोग्य योजना 2022

इस  स्वास्थ्य सुरक्षा योजना  के तहत पहले 1350 उपचार जैसे सर्जरी ,मेडिकल डे केयर ट्रीटमेंट ,डायग्रोस्टिक आदि पैकेज  को शामिल किया गया था लेकिन अब इसमें 19 अन्य आयुर्वेदिक ,होम्योपैथिक ,योग ,यूनानी उपचार पैकेज को शामिल कर लिया गया है | देश के गरीब नागरिक इन सभी बीमारियों का इलाज योजना के तहत अपना गोल्डन कार्ड बनवाकर  निजी और सरकारी हॉस्पिटलों में जाकर  मुफ्त में करवा सकते है और अपनी बीमारी से मुक्त हो सकते है और हस्पतालो में किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जायेगा |तो देश के लोग जल्द से जल्द अपना गोल्डन कार्ड जन सेवा केंद्र से बनवा ले और हॉस्पिटलों में इसका लाभ उठाये |

Pradhanmantri Jan Arogya Card 2022 के दस्तावेज़

  • आधार कार्ड
  • मोबाइल नंबर
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो

E Shram Card 

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड प्राप्त करने के लिए पात्रता की जांच  कैसे करे?

देश के जो लाभार्थी  Ayushman Bharat Golden Card सूची में  पात्रता के अनुसार  शामिल किये जायेगा वही लोग जन आरोग्य गोल्डन कार्ड को डाउनलोड कर सकते है | हमने आपको नीचे पूरी प्रकिया दी हुई है उसे ध्यानपूर्वक पढ़े |

  • सर्वप्रथम आपको आयुष्मान भारत योजना की Official Website पर जाना होगा | Official Website पर जाने के बाद आपके सामने वेब पेज खुल जायेगा |
  • इस  वेब पेज पर आपको अपना पंजीकृत मोबाइल नंबर ,और कैप्चा कोड को भरना होगा | इसके बाद आखिर में जनरेट OTP पर क्लिक करना होगा क्लिक करने के तुरंत बाद ही आपके पंजीकृत मोबाइल फ़ोन पर एक OTP आएगा |
  • फिर खाली बॉक्स में इस OTP को भरना होगा | इसके बाद आपके सामने कुछ विकल्प दिखाई देंगे जैसे
  • 1 .नाम से
  • 2 .मोबाइल नंबर से
  • 3 .राशन कार्ड के द्वारा
  • 4 .RSBI URN द्वारा
  • वांछित विकल्प पर क्लिक करके अपना नाम खोजे इसके बाद पूछे गयी सभी जानकारी भरे | फिर आपके सामने खोज परिणाम आपकी स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जायेगा |

आयुष्मान भारत गोल्डन कार्ड 2022 कैसे डाउनलोड करे?

देश के लोग अपना Ayushman Bharat Golden Card जन सेवा केंद्र और डीएम के कार्यालय से प्रिंट करवा सकते है लेकिन आप गोल्डन कार्ड वही से डाउनलोड कर  सकते है जहा से आपने बनवाया है और जिस एजेंट से बनवाया है वही आपको डाउनलोड करके देगा | नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे |

  • सर्वप्रथम आपको Ayushman Bharat Cloud Website पर जाना होगा | Cloud Website  पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको Login का विकल्प दिखाई देगा इस लॉगिन का फॉर्म खुलेगा इसमें आपको ईमेल आईडी और पासवर्ड डालकर SIGN  IN  के बटन पर क्लिक करे |
  • इसके बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा इसमें आपको Aadhar Card डालकर आगे  बढ़े और अगले पेज पर अपने अगुठे का निशान वेरीफाई करना होगा |
  • अंगूठा वेरीफाई करने के बाद अगला पेज खुलेगा इस पेज पर आपको बहुत से ऑप्शन देखे देंगे जिसमे से आपको Approved Beneficiary के ऑप्शन पर क्लिक कर दे | विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने गोल्डन कार्ड अप्रूव हुआ है उसकी लिस्ट आ जाएगी |
  • फिर लिस्ट में अपना नाम देखे और उसके आगे confirm print के ऑप्शन पर क्लिक कर दे | ऑप्शन के विकल्प पर क्लिक करने के बाद आप जन CSC Centre Wallet ट पर रीडायरेक्ट हो जायेगा |
  • इसके पश्चात् CSC वेलेट में अपना पासवर्ड डाले फिर पासवर्ड के बाद वेलेट Pin डाले | इसके बाद आप फिर से होम पेज पर आ जायेगे |
  • फिर आपको केंडिडेट के नाम के आगे Download Card का  विकल्प दिखाई देगा इस पर क्लिक कर दे और गोल्डन कार्ड को डाउनलोड कर ले |
  • इस तरह आप अपना आयुष्मान गोल्डन कार्ड डाउनलोड कर सकते है |

Ayushman Bharat Golden Card कैसे बनवाये?

देश  के जो इच्छुक लाभार्थी PMJAY गोल्डन कार्ड बनवाना चाहते है तो वह निचे दिए गए तरीके को फॉलो करे | और लाभ उठाये | आप लोग दो  जगहों से अपना गोल्डन कार्ड बनवा सकते है और डाउनलोड भी कर सकते है |

जनसेवा केंद्र  द्वारा

  • सर्वप्रथम आवेदक को अपने नज़दीकी जनसेवा केंद्र जाना होगा CSC Kendra वाले आपका नाम आयुष्मान भारत योजना की सूची में देखेंगे |
  • अगर आपका नाम आयुष्मान भारत योजना सूची में उपलब्ध होगा तो उन्हें गोल्डन कार्ड दिया जायेगा |
  • इसके बाद आपको अपने सभी दस्तावेज़ों जैसे आधार कार्ड ,राशन पत्रिका ,पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि को जन सेवा केंद्र के एजेंट को ले जाकर दे दे |
  • जिससे एजेंट आपका सफल Registration करेगा और आपको Registerd ID प्रदान करेगा |
  • फिर जनसेवा केंद्र  वाले आपको 10 से 15 दिनों में आयुष्मान कार्ड प्रदान करेंगे और आपको गोल्डन कार्ड बनवाने के लिए 30 रूपये की फीस देनी होगी |

पंजीकृत और निजी हॉस्पिटलों के द्वारा

  • सर्वप्रथम आपको अपने नज़दीकी निजी या सरकारी अस्पतालों में अपने दस्तावेज़ों जैसे आधार कार्ड ,राशन पत्रिका ,पंजीकृत मोबाइल नंबर आदि  के साथ जाना होगा |
  • इसके बाद आपका नाम जन आरोग्य योजना की सूची में जाँचा जायेगा |
  • इस सूची में नाम आने के बाद ही आपको आयुष्मान कार्ड प्रदान किया जायेगा |

किसी और के नाम कार्ड जारी होने पर यहां दर्ज कराएं शिकायत

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं आयुष्मान भारत योजना को प्रदेश के कमजोर वर्ग के नागरिकों को ₹500000 तक का सालाना बीमा कवरेज प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। यह योजना दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है। इस योजना पर आने वाला खर्च केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जाता है। इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के बाद आपको एक गोल्डन कार्ड प्रदान किया जाता है। जिसे आप अस्पताल में दिखाकर ₹500000 तक का मुफ्त इलाज प्राप्त कर सकते हैं। यदि आपका यह गोल्डन कार्ड किसी कारणवश किसी और के नाम से जारी कर दिया जाता है तो आप को चिंता करने की आवश्यकता नहीं है। आप इस बात की जानकारी Tollfree Number पर दे सकते हैं।

  • यह शिकायत करने के लिए आपके पास कोई प्रमाणित दस्तावेज उपलब्ध होना अनिवार्य है जैसे कि प्रधानमंत्री जी का पत्र या प्लास्टिक कार्ड। टोल फ्री नंबर 180018004444 तथा 14555 है।
  • इसके अलावा योजना से संबंधित दस्तावेज लेकर लाभार्थी जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय भी जा सकता है। कार्यालय में लाभार्थी को डिस्ट्रिक्ट इंप्लीमेंटेशन यूनिट के पास अपनी शिकायत दर्ज करानी होगी। इस तरह की शिकायतें आने पर मामले की जांच की जाएगी एवं दस्तावेजों का सत्यापन किया जाएगा।
  • सत्यापन के बाद शिकायत शासन को भेज दि जाएगी। शासन स्तर से अनुमति प्राप्त होने के बाद लाभार्थी द्वारा सूचीबद्ध चिकित्सालय या जन सेवा केंद्र के माध्यम से आयुष्मान कार्ड बनवा सकता।

आयुष्मान भारत योजना सूचीबद्ध अस्पतालों से संबंधित जानकारी

आयुष्मान भारत योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको किसी भी प्रकार का पंजीकरण करवाने की आवश्यकता नहीं है। क्योंकि यह योजना पूर्णता पात्रता पर आधारित है। जो कि वर्ष 2011 की जनगणना है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थी एंपेनल्ड हॉस्पिटल के माध्यम से अपना मुफ्त इलाज करवा सकता है।

  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को अस्पताल में अपना आधार कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, मनरेगा जॉब कार्ड अथवा सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त फोटो पहचान पत्र ले जाना होगा।
  • जिसके माध्यम से लाभार्थी की पात्रता सुनिश्चित की जाएगी। सूचीबद्ध Hospital की List भी हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके प्राप्त की जा सकती है।
  • इसके अलावा लाभार्थी द्वारा Ayushman Sarathi App डाउनलोड करके भी इस योजना से संबंधित जानकारी प्राप्त की जा सकती है। सूचीबद्ध अस्पतालों की सूची मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय, ग्राम पंचायत कार्यालय, सामुदायिक व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र तथा आशा कार्यकर्ता के माध्यम से प्राप्त की जा सकती है।

हेल्थ बेनिफिट पैकेज से संबंधित जानकारी प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको मैन्युबार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको हेल्थ बेनिफिट पैकेज के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपनी आवश्यकतानुसार विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगी।

ग्रीवेंस दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको ग्रीवेंस पोर्टल के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • अब आपको ग्रीवेंस कैटेगरी में PMJAY का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर ग्रीवेंस फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फॉर्म में आपको निम्नलिखित जानकारी दर्ज करनी होगी:
    • ग्रीवेंस बाय
    • केस टाइप
    • इनरोलमेंट स्टेटस
    • नेम
    • जेंडर
    • ईयर ऑफ बर्थ
    • कांटेक्ट नंबर
    • स्टेट
    • डिस्ट्रिक्ट
    • एड्रेस
    • ई-मेल
    • ग्रीवेंस अगेंस्ट
    • स्टेट
    • डिस्ट्रिक्ट
    • नेचर ऑफ ग्रीवेंस
    • ग्रीवेंस डिस्क्रिप्शन
  • इसके पश्चात आपको फाइल अपलोड करनी होगी।
  • अब आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस दर्ज कर सकेंगे।

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको ग्रीवेंस पोर्टल के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको ट्रैक योर ग्रीवेंस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको UGN दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • आपका ग्रीवेंस स्टेटस आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको मैन्युबार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • उसके पश्चात आपको डैशबोर्ड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर अब डैशबोर्ड देख सकते हैं।

फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको मेनुबार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको फीडबैक के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन पर फीडबैक फॉर्म खुलकर आएगा।
  • इस फोन में आपका अपना नाम, ईमेल आईडी, मोबाइल नंबर, रिमार्कस, कैटेगरी, कैप्चा कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सबमिट कर विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप फीडबैक दे सकेंगे।

संपर्क विवरण देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको आयुष्मान भारत योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको मैन्युबार के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको कांटेक्ट अस के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप संपर्क विवरण देख सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here