प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2022: Awas Yojana List, pmaymis.gov.in

Awas Yojana List 2022 ऑनलाइन चेक करे और प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट pmaymis.gov.in खोजे, PMAY Status Kaise Dekhe, PM Awas Yojana Beneficiary Status Online Check

Awas Yojana List के अंतर्गत उन लाभार्थियों को शामिल किया गया है जिन्होंने हाल ही में प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन किया था | केंद्र सरकार द्वारा लाभार्थियों के सभी दस्तावेजों का सत्यापन कर प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में उनका नाम सम्मिलित किया गया है | देश का कोई भी निवासी जिसने PMAY Yojana के अंतर्गत आवेदन किया है वह आसानी से पीएमएवाई सूची में अपना नाम खोज सकता है | यदि आप भी प्रधान मंत्री आवास योजना लिस्ट में अपना नाम खोजना चाहते है तो आज हम आपकोआवास योजना लिस्ट के अंतर्गत अपना नाम खोजने का बहुत ही सरल व आसान तरीका बताने जा रहे हैं|

केवल आधार कार्ड की सहायता से कोई भी लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत अपना नाम खोज सकता है इसके लिए सर्वप्रथम आपको Awas Yojana List की आधिकारिक वेबसाइट@pmaymis.gov.in पर जाना होगा | PMAY List 2022 के अंतर्गत केवल उन्हीं परिवारों को सम्मिलित किया गया है जो इस योजना की पात्रता को पूर्णता परिपूर्ण करते हैं | ऐसे सभी परिवारों का सत्यापन कर केंद्र सरकार द्वारा उनकी सूची बनाकर आधिकारिक वेबसाइट पर समय समय पर उपलब्ध कराती है ताकि लाभार्थियों को जल्द से जल्द स्वयं का मकान उपलब्ध कराया जा सके| आवास योजना लिस्ट को ऑनलाइन उपलब्ध कराने का उद्देश्य सरकार तथा लोगों के बीच पारदर्शिता को बढ़ाना है एवं योजना के कार्यान्वयन में गति प्रदान करना है

प्रधानमंत्री जी के द्वारा किया गया 1152 घरों का उद्घाटन

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 26 मई 2022 को लाइट हाउस प्रोजेक्ट चेन्नई के अंतर्गत निर्मित किए गए 1152 घरों का उद्घाटन किया जाएगा। इन घरों का निर्माण करने में 116 करोड़ की लागत लगी है। इस प्रोजेक्ट के अंतर्गत प्रीकास्ट कंकरीट कंस्ट्रक्शन सिस्टम का उपयोग किया जाता है। इसके अलावा प्रधानमंत्री जी द्वारा यह भी जानकारी प्रदान की गई कि पहली बार देश में इतने बड़े पैमाने पर निर्माण क्षेत्र में नए जमाने की वैश्विक तकनीकी सामग्री और पत्रिकाओं का उपयोग किया जा रहा है। 1 जनवरी 2021 को देश भर में 6 स्थानों पर लाइट हाउस परियोजना आरंभ की गई थी। इन सभी परियोजनाओं की निगरानी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा ड्रोन के माध्यम से की गई।

प्रधानमंत्री आवास योजना की अब तक की प्रगति

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं देश के नागरिकों को अपना खुद का घर उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना संचालित की जाती है। इस योजना के माध्यम से सरकार की ओर से लाभार्थियों को सब्सिडी का लाभ प्रदान किया जाता है। जिससे कि गरीब और निम्न और मध्यम आय वर्ग वाले नागरिक अपना खुद का घर खरीद सके। इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा घर का निर्माण पर 2.67 लाख रुपए तक की सब्सिडी प्रदान की जाती है। अब तक Awas Yojana List के माध्यम से 1.29 करोड़ घरों का निर्माण किया जा चुका है। इस योजना के पहले चरण में लगभग एक करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके अंतर्गत 91.22 लाख पक्के मकान बनवाए गए थे। जिसके लिए 1.13 लाख करोड़ रुपए का खर्च आया था।

इस योजना के दूसरे चरण में 1.23 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके तहत 91.93 लाख पक्के मकान बनाए गए थे। इन मकानों का निर्माण करने के लिए सरकार द्वारा 72000 करोड़ रुपए खर्च किए गए थे। दोनों चरणों को मिलाकर अब तक सरकार द्वारा 2.23 करोड़ मकान बनवाए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसके तहत 1.83 करोड़ मकान योजना के अंतर्गत बनाए गए हैं।

Awas Yojana List In Highlights

Scheme NamePM Awas Yojana List 2022
Launched ByMr. Narendra Modi
Launched DateYear 2015
BeneficiaryEvery Citizen of India
ObjectiveTo Provide Pucca House to Each beneficiary
BenefitsHouse For all
PMAY List 2021Available Now
Mode of Downloading  ListOnline
CategoryCentral Govt. Scheme
Official Websitehttps://pmaymis.gov.in/

पीएम शहरी आवास योजना का उद्देश्य

आवास योजना लिस्ट का मुख्य उद्देश्य देश के शहरी गरीब लोगो को जिनके पास रहने के लिए पक्का घर नहीं है या वह बेघर है उन्हें सरकार द्वारा पक्के घर की सुविधा उपलब्ध कराना। पहले मार्च 2022 तक गरीब वर्गों के लिए 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य रखा है। सरकार बिल्डरों की सहायता से चुनिन्दा शहरों में पक्के घरों का निर्माण करने की कोशिश कर रही है । इस योजना के तहत प्रदान किए गए घरों को एक वयस्क महिला सदस्य या पुरुषों के साथ संयुक्त रूप से स्वामित्व किया जाएगा।

बजट 2022-23 के अंतर्गत PMAY से संबंधित घोषणाएं

1 फरवरी 2022 को वर्ष 2022 के बजट की घोषणा करते समय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण जी के द्वारा यह जानकारी प्रदान की गई कि Pradhanmantri Awas Yojana के अंतर्गत 80 लाख घरों का निर्माण वर्ष 2022-23 में पूरा किया जाएगा। जिसके लिए सरकार द्वारा 48000 करोड रुपए की राशि की मंजूरी प्रदान की गई है। वित्त मंत्री द्वारा यह भी जानकारी प्रदान की गई कि इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार दोनों मिलकर इस योजना का कार्यान्वयन करेंगी।

  • इस योजना के अंतर्गत सभी राज्य से यूनिक लैंड पार्सल आईडेंटिफिकेशन नंबर को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा। जिससे कि सभी रिकॉर्ड का बेहतर ढंग से प्रबंधन किया जा सके। लैंड रिकॉर्ड को 8 भाषाओं में अनुवाद किया जाएगा। इस योजना को 25 जून 2015 को आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से देश के प्रत्येक नागरिक को अपना खुद का घर उपलब्ध करवाने के उद्देश्य से आरंभ किया गया था।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत वर्ष 2020-21 में 33.99 लाख घरों के निर्माण किए गए हैं एवं 26.20 लाख घरों के निर्माण 25 नवंबर 2021 तक पूरे किए गए हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना अर्बन के अंतर्गत वर्ष 2021 में 14.56 घरों के निर्माण किए गए हैं एवं वर्ष 2021-22 में अब तक 4.49 लाख घरों के निर्माण किए गए हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना सन 2021–22 बिहार लक्ष्य

Pradhan Mantri Awas Yojana को सन 2022 तक सभी आवासहीन नागरिकों को आवास प्रदान करने के लिए आरंभ की गई थी। PMAY List के अंतर्गत प्रतिवर्ष एक लक्ष्य निर्धारित किया जाता है। इस लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए आवासों का निर्माण किया जाता है। सन 2021-22 के लिए बिहार को इस योजना के अंतर्गत सबसे अधिक आवास प्रदान करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। यह लक्ष्य 11 लाख 49 हजार 947 आवासों के निर्माण करने का है। इस बात की जानकारी ग्रामीण विकास विभाग के मंत्री श्रवण कुमार द्वारा प्रदान की गई। अब बिहार के गरीब आवासहीन पात्र नागरिकों को प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत पक्का मकान बनाने के लिए ₹120000 अनुदान राशि के रूप में प्रदान किया जाएगा।

इसके अलावा 11 उग्रवाद प्रभावित आईएपी जिलों में ₹130000 रुपए की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी। इस राशि का 60% हिस्सा केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा एवं 40% हिस्सा राज्य सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा ग्रामीण विकास मंत्री द्वारा यह भी जानकारी दी गई इस योजना के अंतर्गत एक स्थाई प्रतीक्षा सूची बनाई गई थी। इस प्रतीक्षा सूची के सभी परिवारों को बिहार में आवास उपलब्ध करवाया जा चुका है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत बिहार में प्राप्त अब तक का लक्ष्य

Pradhan Mantri Awas Yojana के अंतर्गत बिहार में एक सर्वेक्षण का आयोजन किया गया था। इस सर्वेक्षण के अनुसार लगभग 32 लाख 57 हजार 990 ऐसे परिवार पाए गए जिनका नाम स्थाई प्रतीक्षा सूची में नहीं था। इन सभी परिवारों की सूची 3 वर्ष के बाद केंद्र सरकार के आवास ऐप प्लस पर भेजी गई। इन सभी परिवारों में से 30 लाख 81 हजार 494 परिवार योग्य पाए गए एवं 1 लाख 53 हजार 847 परिवार अयोग्य पाए गए। हाउसिंग ऐप प्लस पर पंजीकृत परिवारों को ध्यान में रखते हुए ही इस वर्ष का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जल्द विभाग द्वारा बिहार के सभी जिलों को भी अलग-अलग लक्ष्यों का आवंटन कर दिया जाएगा।

2016-17 एवं 2017–18 में इस योजना के अंतर्गत 11 लाख 76 हजार 947, वित्तीय वर्ष 2019–20 में 13 लाख 2 हजार 259 एवं वित्तीय वर्ष 2020–21 में 7 लाख 82 हजार 102 आवासों का निर्माण किया गया है। इस वर्ष का लक्ष्य मिलाकर अब तक बिहार में कुल  44 लाख 10 हजार 925 आवासों का लक्ष्य प्राप्त किया गया है।

IAY List 

Pradhan Mantri Awas Yojana List 2022

जिन लाभार्थियों का नाम Awas Yojana List में सम्मिलित होगा उन्हें केंद्र सरकार द्वारा पहली बार स्वयं का घर खरीदने पर 2.35 लाख से लेकर 2.50 लाख तक की ब्याज दरों पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी | आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग तथा निम्न आय वर्गो के लिये योजना के अन्तर्गत 6 लाख तक का ऋण 20 साल की अवधि के लिये उपलब्ध कराया जायेगा तथा PMAY List के अन्तर्गत 6.50 प्रतिशत यानी 2.67 लाख की सब्सिडी देय ऋण पर उपलब्ध करायेगी। एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप के व्यक्तियो को 20 साल के लोन पर 4 फीसदी तथा 3 फीसदी की ब्याज सब्सिडी प्रदान करेगी। कुल मिलाकर एमआईजी 1 तथा एमआईजी 2 ग्रुप को 2.35 लाख व 2.30 लाख की सब्सिडी पर करा रही है।

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट अंतिम चरण

आवास योजना को हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा सन 2022 तक देश के सभी नागरिकों को पक्का घर मुहैया कराने के लक्ष्य से आरंभ किया गया था। यह योजना अब अपने अंतिम चरण पर पहुंच गई है। सन 2022 तक अब सब नागरिकों के पास अपना खुद का पक्का मकान हो जाएगा। जिसमें शौचालय, रसोई गैस कनेक्शन, पीने का पानी तथा बिजली का कनेक्शन होगा। Awas Yojana List के अंतर्गत अब तक 1.29 करोड घर बनाए जा चुके हैं। आने वाले 2 वर्षों में 94 लाख और पक्के मकान बनाए जाएंगे। इस योजना के पहले चरण में लगभग 1 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके अंतर्गत 91.22 लाख पक्के मकान बनवाए गए थे। जिसके लिए कुल 1.13 लाख करोड़ रुपए खर्च किए गए थे।

  • आवास योजना के दूसरे चरण में 1.23 करोड़ पक्के मकान बनवाए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके अंतर्गत 91.93 लाख मकान बनवाए गए है। जिसके लिए 72 हजार करोड़ रुपए का खर्च आया था।
  •  इन दोनों चरणों को मिलाकर अब तक लगभग 2.23 करोड मकान बनवाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। जिसके विपरीत कुल 1.83 करोड मकान बनवा दिए गए हैं। इन मकानों में हर तरह की सुविधाएं उपलब्ध है जैसे कि स्वच्छ भारत अभियान और मनरेगा के अंतर्गत शौचालय, जल जीवन मिशन के अंतर्गत हर घर को पेयजल आपूर्ति के लिए नल कनेक्शन, सौभाग्य योजना के अंतर्गत मुफ्त बिजली कनेक्शन तथा उज्जवला योजना के अंतर्गत सभी घरों में रसोई गैस का मुफ्त कनेक्शन।

PMAY Statistics

Houses Sanctioned112.52 Lakhs
Houses Grounded80.2 Lakhs
Houses Completed48.02 Lakhs
Central Assistance Committed₹ 1.81 Lakh Crore
Central Assistance Released₹ 95777 Crore
Total Investment₹ 7.35 Lakh Crore

उत्तर प्रदेश के 75 जिलों के 75000 लाभार्थियों को मिला योजना का लाभ

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं प्रधानमंत्री आवास योजना को सन 2022 तक प्रत्येक पात्र नागरिक को पक्के मकान मुहैया कराने के लक्ष्य से आरंभ किया गया था। उत्तर प्रदेश में भी इस योजना के अंतर्गत विभिन्न पात्र नागरिकों की पहचान कर कर उनको इस योजना का लाभ पहुंचाया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा उत्तर प्रदेश के नागरिकों तक इस योजना का लाभ पहुंचाने के लिए 5 अक्टूबर 2021 को एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

  • इस कार्यक्रम के माध्यम से उत्तर प्रदेश के 75 जिलों के 75000 नागरिकों को प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा डिजिटल माध्यम से घर की चाबी हस्तांतरित की गई।
  • उत्तर प्रदेश में इस योजना के अंतर्गत अब तक 17 लाख से ज्यादा आवासों को स्वीकृति प्रदान की गई है।

यूपी आवास योजना जनवरी 2021 अपडेट

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं PMAY को सन 2022 तक सभी नागरिकों को अपना खुद का घर प्रदान करने के लक्ष्य से आरंभ किया गया था। उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। यह कार्यक्रम गोरखपुर सर्किट हाउस स्थित एनेक्सी भवन में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री द्वारा 3,42,322 लाभार्थियों के खाते में 2409 करोड रुपए की राशि ऑनलाइन माध्यम से भेजी गई। मुख्यमंत्री द्वारा कार्यक्रम में वाराणसी, मथुरा, अयोध्या, सहारनपुर, गाजियाबाद के 10 लाभार्थियों से वर्चुअल संवाद किया गया। इस संवाद में उनके परिजनों के बारे में जानकारी ली गई और उनसे निर्माण की प्रगति की जानकारी ली गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री जी के द्वारा गोरखपुर के 10 लाभार्थियों को आवास की चाबी भी सौंपी गई।

प्रधानमंत्री आवास योजना अब तक की प्रगति

हाउसिंग डिमांड112 लाख
हाउसेस संक्शनेड103 लाख
हाउसेस ग्रांउडेड60 लाख
कंप्लेटेड हाउसेस32 लाख
नई तकनीक का उपयोग करके बनाए गए मकान15 लाख

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत यूपी प्रथम स्थान पर

मुख्यमंत्री जी के द्वारा यह भी बताया गया कि सन 2017 में प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्यान्वयन के अंतर्गत उत्तर प्रदेश 27वे स्थान पर था और अब उत्तर प्रदेश इस योजना के कार्यान्वयन के अंतर्गत पहले स्थान पर है। इस योजना के अंतर्गत मिर्जापुर नगरपालिका तथा मलिहाबाद नगर पंचायत पूरे देश में नंबर वन पर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा यह भी जानकारी दी गई कि शहरी क्षेत्र में 16.82 लाख से अधिक तथा ग्रामीण क्षेत्र में 23 लाख से अधिक लोगों को प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ प्रदान किया जा चुका है।

  • इस योजना का लाभ सभी नागरिकों को इमानदारी से चयन करके प्रदान किया गया। इस योजना के अंतर्गत 2.5 लाख रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। जिसमें से 1.5 लाख केंद्र सरकार द्वारा प्रदान किए जाते हैं तथा 1 लाख राज्य सरकार द्वारा प्रदान किए जाते हैं।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत पहली किस्त के रूप में 50 हजार रूपए प्रदान किए जाते हैं, दूसरी किस्त के रूप में 1.5 लाख रुपए प्रदान किए जाते हैं
  • तीसरी किस्त के रूप में 50 हजार रूपए प्रदान किए जाते हैं। वह सभी व्यक्ति जिनके पास अपना खुद का घर नहीं है एवं उनकी सालाना आय ₹300000 से कम है वह इस योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना रिश्वत मुक्त

मुख्यमंत्री द्वारा यह भी बताया गया कि प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी तरह से रिश्वत मुक्त है। यदि कोई भी अधिकारी आपसे पैसों की मांग करता है तो आप अपने विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन या आईवीआरएस पर उसकी शिकायत कर सकते हैं। वह व्यक्ति जो रिश्वत मांगेगा सरकार द्वारा उसकी पूरी संपत्ति ज़ब्त कर ली जाएगी। मुख्यमंत्री द्वारा जनप्रतिनिधियों से भी पीएम आवास योजना के अंतर्गत बन रहे आवासों की सप्ताहिक समीक्षा करने की अपील की गई है। मुख्यमंत्री ने जनप्रतिनिधियों से यह भी अपील की है कि वह लाभार्थियों की काउंसलिंग करें और यह सुनिश्चित करें कि राशि का प्रयोग आवास बनाने में ही हो।

प्रधानमंत्री आवास योजना 2022 जियो टैगिंग

PM Awas Yojana के अंतर्गत जियो टैगिंग की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। जिसके लिए सरकार द्वारा एक विशेष अभियान चलाया जाएगा। कलेक्टर रविंद्र कुमार चौधरी ने बताया है कि वह सभी शिकायतें जो सीएम हेल्पलाइन पर दर्ज हैं उनका हल 30 नवंबर तक कर दिया जाएगा। कलेक्टर द्वारा यह भी सुनिश्चित किया जा रहा है कि आधार सीडिंग की कार्रवाई भी जल्द से जल्द पूरी हो जाए। सभी लाभार्थियों की आधार सीडिंग 3 दिन में पूरी की जाने का निर्देश कलेक्टर द्वारा दिया गया है। वह सभी पीसीओ तथा सचिव जो आधार सीडिंग के कार्य में लापरवाही करेंगे उनके खिलाफ सख्त कदम उठाए जाएंगे।

  • अगस्त तथा अक्टूबर माह में पोर्टल पर अपडेशन के दौरान कुछ लाभार्थियों के नाम दस्तावेज पूरे ना होने की वजह से डिलीट कर दिया गए हैं।
  • वह सभी लाभार्थी जिन्होंने अपने पूरे दस्तावेज अपलोड नहीं किए हैं वह जल्द से जल्द पूरे दस्तावेज अपलोड करें।
  • अधिकारियों द्वारा दस्तावेजों का सत्यापन किया जाए और योजना का लाभ प्रदान किया जाए। कलेक्टर ने सभी वार्ड सेक्रेटरी तथा अर्बन बॉडी को यह निर्देश जारी किया है कि यह काम जल्द से जल्द पूरा हो जाए।

Awas Yojana List के अंतर्गत इनकम कैटेगरी

आवास योजना के अंतर्गत तीन कैटेगरी के लोगों को लोन दिया जाता है। यह कैटेगरी लोगों के सालाना आय के हिसाब से निर्धारित की जाती है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्य आय वर्ग के लोगों को लोन दिया जाता है। कई बार लोगों के मन में यह सवाल आता है कि हम किस कैटेगरी में आते हैं। तो आइए जानते हैं कि इन वर्गों में कितनी आय वाले लोग आते हैं।

  • आर्थिक कमजोर वर्ग: आर्थिक कमजोर वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹300000 या फिर उससे कम है। Awas Yojana List के अंतर्गत आर्थिक कमजोर वर्ग के लोगों को लोन प्रदान किया जाता है।
  • निम्न आय वर्ग: निम्न आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹300000 से ₹600000 तक है। प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत निम्न आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है।
  • मध्य आय वर्ग: मध्य आय वर्ग के अंतर्गत वह सभी लोग आते हैं जिनकी सालाना आय ₹600000 से ₹1800000 तक है। PM Awas Yojana के अंतर्गत मध्य आय वर्ग के लोगों को भी लोन प्रदान किया जाता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत हुआ विकास

  • प्रधानमंत्री आवास योजना के माध्यम से अब तक 1.20 करोड़ रोजगार उत्पन्न हुए हैं।
  • इस योजना के माध्यम से बाजार में डिमांड बढ़ी है।
  • अब तक इस योजना में 17.7 मिलियन मेट्रिक टन सीमेंट कंज्यूम किया गया है।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना में अब तक 13 मिलियन मेट्रिक टन स्टील कंज्यूम किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से अब तक 5.8 सीनियर सिटीजन, 3.5 लाख वर्कर, 1 लाख एंटरप्रेन्योर्स, 1.5 लाख अर्तिसंस, 0.63 लाख दिव्यांग, 770 ट्रांसजेंडर आदि को लाभ पोहोचा है।
  • प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित क्षेत्रों का भी विकास हुआ है।

PM Awas Yojana (Urban) 2022

प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना का शुभारम्भ 25 जून 2015 को हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के द्वारा देश के शहरी इलाको के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग,निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आयवर्ग के गरीब परिवार जिनके पास खुद का घर नहीं या कच्चे घर है उन्हें  स्वयं का पक्का मकान उपलब्ध कराने के लिए ऋण उपलब्ध कराया जायेगा | इस योजना के अंतर्गत  केंद्र सरकार का लक्ष्य वर्ष 2022 प्रत्येक पात्र परिवार को स्वंय का घर उपलब्ध कराना है | PM Awas Yojana 2022 के अन्तर्गत सरकार द्वारा शहरी क्षेत्रो मे झुग्गी झोपड़ी,कच्चे मकानो मे रहने वाले और EWS,LIG तथा MIG Income Group के व्यक्तियो को सम्मिलत किया जायेगा।

आवास योजना का लक्ष्य

प्रधानमंत्री आवास योजना का मुख्य उद्देश्य देश के उन नागरिकों को अपना खुद का घर प्रदान करना है जिनके पास घर नहीं है। भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए सन 2022 तक एक लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश के हर परिवार को पक्का घर मुहैया कराया जाएगा जिसमें पानी का कनेक्शन, शौचालय तथा 24 घंटे बिजली होगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट की विशेषताएं

  • इस योजना का लाभ शहरी क्षेत्र के गरीब लोग उठा सकते है |
  • इस योजना के अंतर्गत 2022 तक गरीब वर्गों के लिए 2 करोड़ पक्के मकान बनाने का लक्ष्य केंद्र सरकार द्वारा रखा है |
  • PM Awas Yojana 2022 का लाभ उठाने के लिए शहरी क्षेत्र के MIG I के लिए लाभार्थी की वार्षिक आय 6 लाख से 12 लाख रूपये के मध्य होनी चाहिए.और MIG II के लिए 12 लाख से 18 लाख वार्षिक आय होनी चाहिए |
  • देश के लिचुक लाभार्थी इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करके स्वयं का पक्का घर बनाने के लिए ऋण प्राप्त कर सकते है |
  • देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग, निम्न आय वर्ग तथा मध्यम आय वर्गो को केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत Benefits under 3 components में रखा गया है|

आवास योजना का अकाउंटिंग सिस्टम

  • डिमांड वालिडेशन बाय यूएलबी
  • आधार सीडिंग
  • जियो टैगिंग
  • डीबीटी/पी एफ एम एस
  • डिजिटलाइजेशन विद बैंक अकाउंट
  • वेब डिमांड कैप्चर

प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभ

Scheme TypeEligibility Household Income ( Rs.)Carpet Area-Max (sqm)Interest Subsidy (%)Subsidy calculated on a max loan ofMax Subsidy (Rs.)
EWS and LIGUpto  Rs.6 lakh60 sqm6.50 %Rs. 6 lakh2.67 Lacs
MIG 1Rs. 6 lakh to Rs 12 lakh160 sqm4.00 %Rs. 9 lakh2.35 Lacs
MIG 2Rs. 12 lakh  to Rs.18 lakh200 sqm3.00 %Rs.12 lakh2.30 Lacs

प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित कुछ मुख्य जानकारी

  • प्रधानमंत्री आवास योजना की फंडिंग के लिए नेशनल अर्बन हाउसिंग फंड जो कि 60,000 करोड़ रुपए का है आवंटित किया गया है।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग को इंफ्रास्ट्रक्चर स्टेटस प्रदान किया जाएगा।
  • जीएसटी को 8% से 1% अफॉर्डेबल हाउसिंग प्रोजेक्ट्स के लिए किया जाएगा तथा 12% से 5% अन्य हाउसिंग प्रोजेक्ट के लिए किया जाएगा।
  • अफॉर्डेबल हाउसिंग फंड के अंतर्गत इनिशियल कॉरपस प्रदान किया जाएगा जो कि 10000 करोड रुपए का होगा।
  • इनकम टैक्स में भी छूट प्रदान की जाएगी। यह छूट सेक्शन 80-IBA के अंतर्गत प्रदान की जाएगी। जो कि 30 से 60 स्क्वायर मीटर मेट्रो सिटी के लिए होगी तथा 60 से 90 स्क्वायर मीटर नॉन मेट्रो सिटी के लिए होगी।
  • एक अल्टरनेट इन्वेस्टमेंट फंड प्रस्तुत किया जाएगा जो कि 25000 करोड रुपए का होगा।

PMAY में आने वाले राज्य और शहर

  • निम्नलिखित राज्य हैं जिनमें सरकार शामिल है। शहर / शहरों की पहचान की है और योजना के तहत रखे जाने का निर्माण शुरू किया है-
  • छत्तीसगढ़ – 1000 शहर / कस्बे
  • राजस्थान
  • हरियाणा, 38 शहरों और कस्बों में 53,290 घर
  • गुजरात, 45 शहरों और कस्बों में 15,584 घर
  • उड़ीसा, 26 शहरों और कस्बों में 5,133 घर
  • महाराष्ट्र, 13 शहरों और कस्बों में 12,123 घर
  • केरल, 52 शहरों में 9,461 घर
  • कर्नाटक, 95 शहरों में 32,656 घर
  • तमिलनाडु, 65 शहरों और कस्बों में 40,623 घर
  • जम्मू और कश्मीर – 19 शहर / कस्बे
  • झारखंड – 15 शहर / कस्बे
  • मध्य प्रदेश – 74 शहर / कस्बे
  • उत्तराखंड, 57 शहरों और कस्बों में 6,226 घर

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत प्रतिवर्ष हुआ विकास

2014प्रधानमंत्री द्वारा इस योजना की घोषणा की गई
20157.26 लाख घर बनवाए गए
201616.76 लाख घर बनवाए गए
201741.63 लाख घर बनवाए गए
20188.33 लाख घर बनवाए गए
2019100 लाख से अधिक घर बनवाया गए

प्रधानमंत्री आवास योजना की फंडिंग

लाभार्थी का हिस्सा3.02 लाख करोड
केंद्र सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सहायता1.63 लाख करोड़
राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली सहायता1.23 लाख करोड़
यूएलबी शेयर0.25 लाख करोड़

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2022 में अपना नाम कैसे खोजें ?

  • प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने वाले व्यक्ति जो अपना नाम PMAY List 2022 में खोज रहे हैं वह सर्वप्रथम पीएम आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर विजिट करें|
  • अब आधिकारिक वेबसाइट के होम पेज पर आपको ऊपर के भाग में एक विकल्प “Search Beneficiary के नाम से दिखाई देगा
  • इस विकल्प पर क्लिक करें तथा एक New Tab Open करें |
  • अब आपको अपने 12 अंको का आधार कार्ड नंबर अंकित करना होगा तथा इसके पश्चात Search Batan पर क्लिक करना होगा|
  • यदि आपके द्वारा Aadhar Card Number सही-सही भरा गया होगा तथा आपको केंद्र सरकार द्वारा एक लाभार्थी के रूप में स्वीकृत किया गया होगा तो आपका नाम इस सूची में सम्मिलित किया हो गया होगा और यदि ऐसा ना हुआ हो तो आप इस सूची के अंदर अपना नाम नहीं पाएंगे |

SLNA List कैसे देखे ?

देश के जो इच्छुक लाभार्थी SLNA List देखना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा।
  • इस होम पेज पर आपको SLNA List का विकल्प दिखाई देगा। आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला Page खुल जायेगा।
  • इस पेज पर आपको SLNA List खुल कर आ जाएगी।

पीएमएवाई योजना को योजना के अंत तक शुरू करने से तीन चरणों में बांटा गया है।

PMAY चरण -1 अप्रैल 2015 से मार्च 2017 तक- इसमें 100 शहरों को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया था।
चरण -2 अप्रैल 2017 से मार्च 2019 तक- इसमें 200 अतिरिक्त शहर शामिल हैं।
PMAY चरण -3 अप्रैल 2019 से मार्च 2022 तक – इसे शेष शहरों को कवर करना है।

सब्सिडी कैलकुलेट करने की प्रक्रिया

  • इसके पश्चात आपके सामने एक फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें आपको अपनी सालाना आय, लोन की राशि आदि भरना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप सबमिट करेंगे Subsidy Amount आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर होगा।

एसेसमेंट फॉर्म एडिट करने की प्रक्रिया

  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपनी Assessment ID तथा Mobile Number दर्ज करना होगा।
  • अब आपको शो के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने Assessment Form खुलकर आ जाएगा।
  • अब आपको एडिट पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आप एसेसमेंट फॉर्म एडिट कर सकते हैं।

एसेसमेंट फॉर्म प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Print Assessment पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप को प्रिंट एसेसमेंट के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको Search Category का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया फॉर्म खुलकर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपके सामने एसेसमेंट फॉर्म खुलकर आ जाएगा।
  • आप इस फॉर्म को डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

असेसमेंट स्टेटस ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Citizen Assessment के टैब पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप को ट्रैक your एसेसमेंट स्टेटस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको सर्च कैटेगरी का चयन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें पूछी गई जानकारी आपको दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको ट्रैक स्टेटस के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप Assessment Status Track कर पाएंगे।

डिस्क्लेमर डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने Home Page खुल कर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको डिस्क्लेमर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
PMAY List
  • अब आपके सामने PDF Format में डिस्क्लेमर खुलकर आएगा।
  • इसके पश्चात आपको डाउनलोड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप Disclaimer Download कर पाएंगे।

एमआईएस लोगिन करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की Official Website पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको एमआईएस लॉगइन के विकल्प पर Click करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आपको अपना Username, Password तथा Captcha Code दर्ज करना होगा।
  • अब आपको लॉगिन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप MIS login कर पाएंगे।

आवास योजना के अंतर्गत किन स्थितियों में अटकती है सब्सिडी?

देशभर में काफी सारे लोग ऐसे हैं जिनको प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ प्राप्त नहीं हो रहा है। इस बात की शिकायत लाभार्थी विभाग में तथा सोशल मीडिया के माध्यम से कर रहे हैं। इस योजना में यदि आपको सब्सिडी प्राप्त नहीं हो रही है तो एक बार आप निम्नलिखित कारण पढ़ ले।

आधार कार्ड के अनुसार अन्य दस्तावेजों में नाम ना होने की स्थिति

कई बार लोगों से फॉर्म भरते समय भी गलती हो जाती है। फॉर्म भरते समय आपको यह ध्यान रखने की बहुत जरूरत है कि आपने दस्तावेज में आधार कार्ड के अनुसार ही नाम लिखा है। यदि आपने आधार कार्ड के अनुसार नाम नहीं लिखा है तो इस स्थिति में आप की सब्सिडी रुकेगी।

सह मालिक में महिला का नाम

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत छूट प्राप्त करने के लिए यह जरूरी है कि सह मालिक और सेह उधरकर्ता महिला हो। यदि महिला का नाम सह मालिक में नहीं है तो सब्सिडी का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

घर खरीदार

यदि आपको प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम की छूट प्राप्त करना चाहते है तो आपके लिए यह अनिवार्य है कि आप पहली बार घर खरीद रहे हो। यदि आप पहले घर खरीद चुके हैं तो आपको इस योजना का लाभ प्राप्त नहीं होगा।

आय सीमा

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ प्राप्त करने के लिए आय सीमा निर्धारित की गई है। यदि किसी व्यक्ति की आय और घर की श्रेणी में अंतर आता है तो उसे क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम का लाभ प्रदान नहीं किया जाएगा।

कोविड-19 की वजह से भी हुई देरी

 कोरोनावायरस संक्रमण के चलते प्रधानमंत्री आवास योजना की जांच प्रक्रिया में देरी हो गई थी। जिसकी वजह से इस योजना के लाभार्थियों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा है। अब विभाग द्वारा  जांच प्रक्रिया को तेज किया जा रहा है और सभी पात्र लाभार्थियों को योजना का लाभ प्रदान किया जा रहा है।

डैशबोर्ड देखने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने Home Page खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Dashboard के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक New Page खोलकर आएगा।
  • इस पेज पर आप Dashboard देख सकते हैं।

सिटी वाइज प्रोग्रेस देखने की प्रक्रिया

  • इसके पश्चात आपके सामने एक PDF File खुल कर आएगी।
  • इस पीडीएफ फाइल में आप City Wise Progress देख सकते हैं।

नेशनल प्रोग्रेस देखने की प्रक्रिया

  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा।
  • इस पेज पर आप प्रधानमंत्री आवास योजना की National Progress देख सकते हैं।

स्टेट वाइज प्रोग्रेस देखने की प्रक्रिया

  • अब आपके सामने PDF File खुल कर आएगी।
  • इस पीडीएफ फाइल में आप अपने राज्य की प्रोग्रेस देख सकते हैं।

Contact Information

हमने अपने इस लेख के माध्यम से आपको प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। Helpline Number कुछ इस प्रकार है।

  • Helpline Number- 011-23060484, 011-23063285, 011-23061827, 011-23063620, 011-23063567

Important Download

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here