प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2022 | PMAY-G नई सूची

Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana List ऑनलाइन चेक करे और ग्रामीण आवास योजना लिस्ट ऑनलाइन देखे तथा pmayg.nic.in स्टेटस खोजे

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा देश के प्रत्येक नागरिक को अपना खुद का घर मुहैया कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना का शुभारंभ किया गया था। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए इस योजना का संचालन किया जाता है। इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में घर के निर्माण पर सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। यह सहायता उन नागरिकों को प्रदान की जाती है जिनका नाम प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट में उपस्थित है। लाभार्थियों द्वारा Gramin Awas Yojana List को pmayg.gov.in पर चेक की जा सकती है। इस लेख के माध्यम से आपको लिस्ट चेक करने की प्रक्रिया से अवगत करवाया जाएगा। इसके अलावा आपको PMAY-G से संबंधित अन्य जानकारी भी प्रदान की जाएगी। तो आइए जानते हैं कैसे ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2022 चेक करें एवं इस योजना का लाभ प्राप्त करें।

Table of Contents

PMAY Gramin List 2022

इस योजना की नई सूची के अंतर्गत लाभार्थियों के नाम जारी किये जायेगे | PMAY-G New List के अंतर्गत उन लाभार्थियों का नाम आएगा जिन्हे इस योजना के लिए चुना गया है | Gramin Awas Yojana List और PMAY-G नई संशोधित सूची में जिन लाभार्थियों का नाम होगा वही इस योजना का लाभ सकते है और पक्का घर बनाने के लिए धनराशि प्राप्त कर सकते है इस योजना की ऑनलाइन लिस्ट में आपको लाभार्थी के मूल विवरण तथा बैंक खाता विवरण मिलेगा | ग्रामीण आवास सूची की खोज लाभार्थी 2 तरीके से कर सकते है |

  1. PMAY-G लाभार्थी सूची पंजीकरण संख्या द्वारा
  2. PMAY-G लाभार्थी सूचीअग्रिम खोजे द्वारा

योजना के अंतर्गत पूरा किया गया 1.75 करोड़ बड़ों का निर्माण

केंद्र सरकार द्वारा 16 मार्च 2022 को यह जानकारी प्रदान की गई कि प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत अब तक 1.75 करोड़ घरों का निर्माण पूर्ण हो चुका है। इस योजना के अंतर्गत 2.28 करोड़ घर स्वीकृत किए गए हैं। इनमें से 1.75 करोड़ घर 9 मार्च 2022 तक पूरे हो चुके हैं। इस बात की जानकारी केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति के द्वारा प्रदान की गई। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी को स्वीकृत करने की तारीख से 12 महीने के भीतर घर का निर्माण के लिए राशि प्रदान की जाती है।

लाभार्थी को कम से कम तीन किस्तों में यह सहायता प्रदान की जाती है। इसके अलावा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अंतर्गत 2.95 करोड़ घरों के निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसमें से शेष घरों को पूरा करने के लिए मार्च 2021 से मार्च 2024 तक योजना को जारी रखने की मंजूरी प्रदान की गई है।

Breif Summary Gramin Awas Yojana List 2022

योजना का नाम Gramin Awas Yojana List

संबंधित विभाग ग्रामीण विकास मंत्रालय

योजना आरंभ की तिथि वर्ष 2015

ऑनलाइन आवेदन की तिथि Available Now

योजना का प्रकार Central Govt. Scheme

आवेदन का प्रकार ऑनलाइन

लाभार्थी SECC-2011 Beneficiary

उद्देश्य House For all

आधिकारिक वेबसाइट https://pmayg.nic.in/

Gramin Awas Yojana List का उद्देश्य

ग्रामीण आवास योजना लिस्ट का मुख्य उद्देश्य प्रत्येक नागरिक को घर बैठे अपना नाम लाभार्थी सूची में देखने की सुविधा उपलब्ध करवाना है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना देश के हर एक नागरिक को अपना खुद का घर प्रदान करने के लिए आरंभ की गई है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की पूरी प्रक्रिया सरकार द्वारा ऑनलाइन कर दी गई है। अब आप घर बैठे Gramin Awas Yojana List चेक कर सकते हैं। इस लिस्ट में अपना नाम देखने के लिए आपको किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। आपको केवल आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा और वहां से आप अपना नाम प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट में देख पाएंगे। इस लिस्ट के ऑनलाइन उपलब्ध होने की वजह से अब आप के समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी।

त्रिपुरा के नागरिकों को जारी की गई पहली किस्त की राशि

14 नवंबर 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से त्रिपुरा के 1.47 लाख लाभार्थियों को प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की पहली किस्त की राशि जारी की गई। जिसके माध्यम से लाभार्थियों के खाते में कुल 700 करोड रुपए की राशि भेजी गई। इस राशि के माध्यम से त्रिपुरा में कच्चे घर में रह रहे लाभार्थियों को अपना पक्का घर प्राप्त हो सकेगा। यह राशि एक कार्यक्रम के माध्यम से लाभार्थियों के खाते में जमा की जाएगी। जिसके दौरान केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और त्रिपुरा के मुख्यमंत्री विप्लव देव उपस्थित होंगे। जनवरी 2021 में सरकार द्वारा 2691 करोड़ रुपए की राशि 6.1 लाख उत्तर प्रदेश के लाभार्थियों को Gramin Awas Yojana List के अंतर्गत प्रदान की गई थी।

प्रधानमंत्री जी के द्वारा 20 नवंबर 2016 को वर्ष 2022 तक सभी नागरिकों को पक्का मकान मुहैया कराने का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसके तहत प्रधानमंत्री आवास योजना का शुभारंभ किया गया था। अब तक 1.26 करोड़ आवास इस योजना के माध्यम से बनाए जा चुके हैं।

उत्तराखंड में 16472 लाभार्थियों को प्रदान किए गए स्वीकृति पत्र

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा 31 जुलाई 2021 को एक कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के 100 से अधिक लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र प्रदान किए गए है। इसके अलावा इस कार्यक्रम के माध्यम से पहली किस्त की राशि भी प्रदान की गई है। राज्य में कुल 16472 लाभार्थियों को स्वीकृति पत्र प्राप्त हुए हैं। इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री जी द्वारा यह भी घोषणा की गई है कि घरों के निर्माण के बाद लाभार्थियों को ₹5000 की राशि भी प्रदान की जाएगी। यह राशि घरेलू सामान के लिए प्रदान की जाएगी। इसके अलावा कैबिनेट मंत्री यतीश्वरानंद द्वारा भी सभी लाभार्थियों को बधाई दी गई है और यह आश्वासन दिया गया है कि इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का चयन पारदर्शिता के साथ किया जाएगा।

अधिकारियों को भी निर्देश दिए गए हैं कि वह इस योजना की लगातार निगरानी करें और पात्र लाभार्थियों तक योजना का लाभ पहुंचाएं। इसके अलावा आवास प्लस के माध्यम से secc-2011 सर्वेक्षण पात्रता सूची से छूटे 94286 परिवारों की भी पहचान की गई है। इनमें से 29142 परिवार अपात्र पाए गए हैं एवं 65144 परिवार पात्र पाए गए हैं। जिनमें से 2865 परिवार भूमिहीन है। इन सभी परिवारों को घर के निर्माण के लिए 1.30 लाख रुपए अनुदान प्रदान किया जाएगा। यह राशि लाभार्थी के खाते में 3 किस्तों में वितरित की जाएगी।

ग्रामीण आवास योजना यूपी के 6 लाख लोगों को पहुंचा लाभ

बुधवार दिनांक 20-01-2021 को हमारा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा Gramin Awas Yojana के अंतर्गत उत्तर प्रदेश के लाभार्थियों के लिए 2691 करोड़ रुपए की वित्तीय सहायता जारी की गई है। इस वित्तीय सहायता की घोषणा प्रधानमंत्री जी द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की गई। सभी लाभार्थियों के बैंक अकाउंट में यह राशि सिंगल क्लिक के माध्यम से पहुंचाई गई। इस वित्तीय सहायता के माध्यम से लगभग 6.1 लाख लाभार्थियों को लाभ पहुंचाएगा। इस अवसर पर प्रधानमंत्री जी के द्वारा योजना के लाभार्थियों से संवाद भी किया गया।

  • इन 6.1 लाख लाभार्थियों में से 5.30 लाभार्थियों को पहली किस्त की राशि प्रदान की गई है एवं 80000 लाभार्थियों को दूसरे की राशि प्रदान की गई है। इस अवसर पर केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए।
  • अब तक प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत देशभर में 1.26 करोड़ पक्के मकान बनाए जा चुके हैं। इस योजना के अंतर्गत निर्माण के लिए जगह को 20 वर्ग मीटर से बढ़ाकर 25 वर्ग मीटर कर दिया गया है। जिसके अंतर्गत रसोई क्षेत्र भी शामिल है।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत मैदानी इलाकों में 1.20 लाख रुपए प्रदान किए जाएंगे तथा पहाड़ी इलाकों में 1.30 लाख रुपए प्रदान किए जाएंगे। इस योजना की शुरुआत 2015 में की गई थी।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत देश के कमजोर वर्ग के लोगों को अपना खुद का पक्का घर बनवाने के लिए या फिर पुराने घर की मरम्मत करवाने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

PM Gramin Awas Yojana लाभार्थी का चयन

  • इस योजना के तहत लाभार्थियों का चयन /निर्धारण SECC 2011 के आकड़े में आवास आभाव को दर्शाने वाले पैरामीटरों के आधार पर किया जायेगा तत्पश्चात ग्राम सभा द्वारा मान्यीकरण किया जायेगा ।
  • आवास योजना लिस्ट के तहत उन लाभार्थियों का चयन बीपीएल सूची के स्थान पर SECC 2011 आकड़ो के अनुसार बेघर परिवार या एक या 2 कच्चे दीवार और कच्ची छत युक्त मकानों में रहने वालो का किया जायेगा ।
  • पात्र लाभार्थियों में से सबसे पहले अनुसूचित जाति, अनुसूचित जन जाति, अल्पसंख्यक और अन्य जैसे प्रत्येक श्रेणी के बेघर परिवारों और एक या 2 कच्चे कमरों के आधार पर प्राथमिकता दी जाएगी ।
  • इस योजना के तहत अनुसूचित जाति ,अनुसूचित जाति ,अल्पसंख्यक और न ऐसी प्रत्येक श्रेणी के परिवारों के 1 या 2 कमरों से अधिक कमरों के मकान वालो को प्राथमिकता नहीं दी जाएगी ।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना में राजसमंद जिले को पहला स्थान

केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय की ओर से इस योजना के कार्यान्वयन की रैंकिंग जारी की जाती है। 16 दिसंबर 2020 को केंद्रीय ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा यह रैंकिंग जारी की गई है। प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के अंतर्गत राजस्थान का राजसमंद जिला पहले स्थान पर है। पिछले 3 वर्ष में राजसमंद जिला में 10 हजार 289 आवास निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। इस लक्ष्य को देखते हुए जिले में 10 हजार 79 आवास का निर्माण किया गया है। इसका मतलब यह है कि राजसमंद जिले में 98.07 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया गया है। जिसके चलते इस जिले ने राष्ट्रीय स्तर पर पहला स्थान प्राप्त किया है। पिछले 5 माह से राजसमंद जिला राजस्थान में पहले स्थान पर है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन में पहले 50 जिलों में राज्य के 14 जिले शामिल हैं। जोकि राजसमंद, बूंदी, डोसा, डूंगरपुर, सवाई माधोपुर, पाली, भीलवाड़ा, हनुमान नगर, नागौर, श्रीगंगानगर, प्रतापगढ़, बांसवाड़ा, उदयपुर तथा जालौर है। बूंदी 12वें स्थान पर है, डोसा 13वे, डूंगरपुर 16से तथा सवाई माधोपुर 24वे स्थान पर है।

  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के प्रथम फेज में राजस्थान में 6.87 लाख आवास निर्माण का लक्ष्य निर्धारित किया गया था। जिसमें से 6.70 लाख आवास का निर्माण कर दिए गए हैं।
  • दूसरे फेस में अब तक 65.35 प्रतिशत आवास का निर्माण कर दिया गया है। जनगणना 2011 के आधार पर परमानेंट प्रिफरेंस लिस्ट बनाई जाएगी।
  • इस लिस्ट में जो भी परिवार आए है उन्हें आवास स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। जैसे ही भारत सरकार द्वारा अनुमति प्रदान की जाएगी पात्र परिवारों का आवास निर्माण का कार्य आरंभ कर दिया जाएगा।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना 2022

इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रो के कमज़ोर वर्ग के लोगो को स्वयं का पक्का घर बनाने के लिए केंद्र सरकार आर्थिक सहायता उपलब्ध करा रही है तथा पुराने घर को पक्का करने में भी सरकार आर्थिक रूप से मदद कर रही है | प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रो के आर्थिक रूप से कमज़ोर परिवारों को केंद्र सरकार प्लेन क्षेत्रो में मकान बनाना के लिए 120000 रूपये तथा पहाड़ी क्षेत्रो में मकान का निर्माण करने के लिए 130 ,000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान कर रही है |

Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana

इस योजना के तहत सरकार 2022 तक इछुक लाभार्थियों को 1 करोड़ पक्के घर उपलब्ध कराएगी | इस योजना के तहत 2011 की जनगणना के आधार पर लाभार्थियों का चयन किया जायेगा | Pradhan Mantri Gramin Awas Yojana 2022 के ज़रिये ग्रामीण क्षेत्रो के आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग परिवारों को पक्का घर बनाने ने लिए दी जाने वाली धनराशि सीधे बैंक अकॉउंट में पंहुचा दी जाएगी और इस धनराशि से ग्रामीण क्षेत्र के लोग अपना घर बनाना का सपना पूरा कर सकते है |

ग्रामीण आवास योजना की लागत

इस योजना के तहत 1 करोड़ मकानों के निर्माण के लिए कुल लागत 1, 30, 075 करोड़ है । इस लागत का वहन केंद्र सरकार और राज्य सरकार के 60 :40 के आधार पर किया जायेगा । पूर्वात्तर राज्यों और तीन हिमाचल राज्यों अर्थात जम्मू कश्मीर , हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के मामले में यह अनुपर 90 :10 है । ग्रामीण आवास योजना 2022 के अंतर्गत संध शासित क्षेत्रो के मामले में पूरी लागत का वहन केंद्र सरकार द्वारा किया जायेगा ।इस योजना के तहत कुल लागत में केंद्रीय अंश 81 ,975 करोड़ रूपये होगा ।जिसमे से 60000 रूपये करोड़ रूपये की पूर्ति बजटीय सहायता से की जाएगी ।और शेष 21 ,975 करोड़ रूपये की पूर्ति राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक से ऋण लेकर की जाएगी । जिसका परिशोधन 2022 के बाद बजटीय अनुदान से किया जायेगा ।

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत कितनी अवधि के लिए मिलता है लोन?

प्रधानमंत्री आवास योजना के अंतर्गत अधिकतम 30 वर्षों की अवधि के लिए लोन प्रदान किया जाता है। यदि लाभार्थी की आयु 30 वर्ष की अवधि पूर्ण होने से पहले 65 वर्ष हो जाती है तो उसे अपनी आयु 65 वर्ष होने से पहले पहले लोन का भुगतान करना होगा। यदि कोई व्यक्ति इस अवधि से पहले भी लोन का भुगतान करना चाहे तो वह कर सकता है।

PM Awas Yojana 2022 के लाभार्थी कौन हैं?

मुख्य रूप से, निम्नलिखित कैटेगरी इस हाउसिंग स्कीम के सभी लाभों का आनंद ले सकती हैं |

  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग
  • महिलाएं (किसी भी जाति या धर्म की)
  • मध्यम आय वर्ग 1
  • मध्यम आय वर्ग 2
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति
  • कम आय वाले लोग

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना 2022 के अंतर्गत कर लाभ

Awas Yojana के अंतर्गत सरकार ने कर में काफी छूट प्रदान की है जो कि कुछ इस प्रकार है।

  • Section 80C- होम लोन के प्रिंसिपल अमाउंट के भुगतान पर इनकम टैक्स में 1.5 लाख तक की प्रतिवर्ष छूट।
  • The Section 24(b)- होम लोन के प्ब्याज के भुगतान पर ₹200000 तक की इनकम टैक्स में प्रतिवर्ष छूट।
  • Section 80EE-पहली बार घर खरीदने वाले हर साल ₹50000 तक का टैक्स रिलीफ प्राप्त कर सकते हैं।
  • Section 80EEA-अगर आपकी संपत्ति किफायती आवास की श्रेणी में आती है तो आपको डेढ़ लाख रुपए तक का प्रतिवर्ष ब्याज की पेमेंट पर इनकम टैक्स में छूट मिलेगी।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना 2022 के कंपोनेंट्स

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के चार कॉम्पोनेंट्स है जो कि कुछ इस प्रकार है।

  • Credit linked subsidy scheme: क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी योजना के अंतर्गत होम लोन के ब्याज दरों पर सरकार द्वारा सब्सिडी प्रदान की जाएगी। यह सब्सिडी सभी वर्गों के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई है।
  • In situ slum redevelopment: इस योजना के अंतर्गत स्लम क्षेत्रों में रहने वाले परिवारों को सरकार द्वारा मकान उपलब्ध कराया जाएगा। जो कि सरकार निजी संगठनों के साथ मिलकर सरकार संसाधन के रूप में भूमि के साथ स्लम बस्तियों का पुनर निवास करेगी।
  • Affordable housing in partnership: इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को डेढ़ लाख रुपए की आर्थिक सहायता घर खरीदने के लिए प्रदान की जाएगी।
  • Individual house construction and enhancement led by beneficiaries: इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा डेढ़ लाख रुपए की आर्थिक सहायता घर के निर्माण के लिए या फिर बढ़ाने के लिए प्रदान की जाएगी।

PM Gramin Awas Yojana List 2022 मुख्य तथ्य

  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के लाभार्थी ₹70000 तक का लोन इस योजना के अंतर्गत प्राप्त कर सकते हैं।
  • इस लोन पर लाभार्थियों को ब्याज पर सब्सिडी भी प्रदान की जाएगी।
  • प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना को अन्य समाज कल्याण योजनाओं के साथ जोड़ा गया है जैसे कि स्वच्छ भारत अभियान, उज्जवला योजना आदि
  • घरों का निर्माण करते समय आवेदक को सामाजिक, आर्थिक तथा भू जलवायु को ध्यान में रखते हुए करना होगा तथा निर्माण में स्थानीय सामग्रियों का उपयोग किया जाएगा।
  • Gramin Awas Yojana के अंतर्गत न्यूनतम एरिया 25 स्क्वायर फिट है। इस एरिया में रसोईघर के साथ सभी बुनियादी सेवाएं शामिल की गई हैं।
  • प्लेन एरियाज के लिए इकाई सहायता को 70000 से बढ़ाकर 120000 कर दिया गया है।
  • पहाड़ी क्षेत्रों के लिए इकाई सहायता को 75000 से बढ़ाकर ₹130000 कर दिया गया है।
  •  यह स्थाई सहायता केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार द्वारा वहन की जाएगी। प्लेन एरिया में केंद्र तथा राज्य सरकार का 60:40 का अनुपात होगा तथा पहाड़ी एरिया में केंद्र तथा राज्य सरकार का 90:10 का अनुपात होगा।

PM Gramin Awas Yojana 2022 की पात्रता

  • आवेदक के पास कोई भी पक्का घर नहीं होना चाहिए।
  • परिवार की वार्षिक आय ₹1800000 या फिर उससे कम होनी चाहिए।
  • आवेदक पहले से किसी आवास योजना का लाभ नहीं उठा रहा हो।
  • सीनियर सिटीजन को तथा दिव्यांग जनों को ग्राउंड फ्लोर के लिए प्राथमिकता दी जाएगी।
  • पहली इंस्टॉलमेंट के 36 महीने के अंदर अंदर घर का निर्माण पूर्ण हो जाना चाहिए।
  • आवेदक किसी भी प्रकार का कर नहीं भरता हो।
  • आवेदक के पास सरकारी नौकरी नहीं होनी चाहिए। यदि सरकारी नौकरी है तो आवेदक की आय ₹10000 या फिर उससे कम होनी चाहिए।
  • इस योजना के अंतर्गत किसान क्रेडिट कार्ड के कार्ड धारक भी लाभार्थी होंगे जिनकी लिमिट ₹50000 या फिर उससे ज्यादा होगी।
  • आवेदक के पास कोई मोटराइज्ड व्हीकल, एग्रीकल्चर इक्विपमेंट, या फिशिंग बोट नहीं होनी चाहिए।
  • इस योजना का लाभ SC, ST तथा माइनॉरिटी कैटेगरी उठा सकती हैं।

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • नौकरी करने वालों के लिए
    • पहचान का प्रमाण
    • आय का प्रमाण
    • संपत्ति दस्तावेज
  • व्यापार करने वालों के लिए
    • व्यापार के पते का प्रमाण
    • आय का प्रमाण
  • अन्य दस्तावेज
    • आधार कार्ड बैंक
    • खाते का विवरण
    • एक एफिडेविट जिसमें यह लिखा हो कि आवेदक के पास कोई पक्का घर नहीं है।
    • हाउसिंग सोसायटी के द्वारा प्रदान की गई एनओसी।
    • एथेनिक ग्रुप सर्टिफिकेट
    • स्वच्छ भारत मिशन नंबर
    • मनरेगा के लाभार्थियों का जॉब कार्ड नंबर
    • सैलेरी सर्टिफिकेट

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना लिस्ट 2022 कैसे देखे ?

जो लाभार्थी Gramin Awas Yojana List 2022 में अपना नाम खोजना चाहते है उन लाभार्थियों को नीचे दी गयी प्रक्रिया का पालन करना होगा |

  • सर्वप्रथम लाभार्थियों को प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा |
  • इसके पश्चात् Official Website के होम पेज पर “Stakeholders” विकल्प दिखाई देगा |
  • Stakeholders विकल्प पर जाने के बाद “IAY/ PMAY-G लाभार्थी पर Click करना होगा |
  • जब आप विकल्प पर क्लिक करेंगे तो आवश्यक विवरण के साथ एक नई विंडो खुल जाएगी।
  • यदि आप पंजीकरण संख्या के साथ ऑनलाइन PMAYG List की जांच करना चाहते हैं तो पंजीकरण संख्या प्रदान करें और Submit Batan पर क्लिक करें।
  • यदि आपके पास पंजीकरण संख्या नहीं है, तो “Advance Search” विकल्प पर Click करें। अब सभी आवश्यक विवरण प्रदान करें। योजना प्रकार का चयन करें और फिर सबमिट बटन पर क्लिक करें।

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना ब्याज दर कैसे कैलकुलेट करे ?

इस योजना के अंतर्गत देश के जो गरीब लोग अपना घर बनाना चाहते है लेकिन उनके पास पैसे नहीं है तो वह आप छह लाख रुपये का लोन सालाना छह फीसदी तक की ब्याज दर पर ले सकते हैं | और अगर आपको अपना घर बनाने के लिए और अधिक पैसे को आवशकता है तो आप उस अतिरिक्त रकम पर आम ब्याज दर से लोन ले सकते है | देश के जो लोग अपने होम लोन की रकम और ब्याज दर को Catculator करना चाहते है तो वह ब्याज दर के हिसाब से ऑनलाइन वेबसाइट पर जाकर मासिक किस्त की गणना कर सकते हैं |

  • सबसे पहले आपको इस ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा | ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने Home Page खुल जायेगा |
  • इस पेज पर आपको Subsidy Calculator का ऑप्शन दिखाई देगा | आपको इस Option पर क्लिक करना होगा | ऑप्शन पर Click करने के बाद यहां आपको लोन की रकम, लोन की अवधि, ब्याज दर आदि डालने पर सब्सिडी की रकम के बारे में पता चल जायेगा |

SECC Family Member Details कैसे देखे?

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा | Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको Stakeholers का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प में से SECC Family Member Details के ऑप्शन पर Click करना होगा |
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा | इस पेज पर आपको अपने State का चयन करना होगा और PMAY ID भरनी होगी |
  • इसके बाद आपको Get Family Member Details के बटन पर Click करना होगा | फिर आप आसानी से मेंबर डिटेल्स आ जाएगी |

भुगतान की स्थिति ( FTO Tracking ) कैसे जाचे ?

  • सबसे पहले आपको Official Website पर जाना होगा, ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको Awaassoft का विकल्प दिखाई देगा आपको इस ऑप्शन में से FTO Tracking के विकल्प पर क्लिक करना होगा | Option पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा |
  • आपको इस पेज पर FTO Paasword या PFMS ID भरनी होगी और फिर Captcha Code डालकर सबमिट के बटन पर क्लिक करना होगा |

प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना मोबाइल एप्लीकेशन कैसे डाउनलोड करे ?

  • सबसे पहले आपको ग्रामीण आवास योजना की Official Website पर जाना होगा | ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने Home Page खुल जायेगा |
  • इस होम पेज पर आपको ऊपर राइट साइड में Google Play का विकल्प दिखाई देगा आपको इस विकल्प पर क्लिक करना होगा | विकल्प पर Click करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा |
  • इस पेज पर आप Awas App इनस्टॉल कर सकते है जिसे आपको चित्र में दिखाई दे रहा है |

ई पेमेंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको Pradhanmantri Gramin Awas Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Awassoft के लिंक पर Click करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको ई पेमेंट के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अपना Mobile Number डालकर लॉग इन करना होगा।
  • इसके पश्चात आप Payment Method Select करके पेमेंट कर सकते हैं।

फीडबैक देने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने Home Page खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको दाई तरफ दिए गए Link पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको फीडबैक के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक New Form खुलकर आएगा। जिसमें आपको अपना नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी तथा Feedback देकर सबमिट करना होगा।
  • इस प्रकार आप Feedback दे सकते हैं।

पब्लिक ग्रेविंस दर्ज करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने Home Page खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको दाई तरफ दिए गए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पब्लिक ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक New Website खुल पर आएगी।
  • आपको ग्रेवांस के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको लॉज पब्लिक ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आप Login करके Grievance Form भर के अपना ग्रीवेंस दर्ज कर सकते हैं।

ग्रीवेंस स्टेटस चेक करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज पर आपको दाई तरफ दिए गए Link पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको पब्लिक ग्रीवेंस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नई वेबसाइट खुल कर आएगी।
  • इसके पश्चात आपको Grivence के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको व्यू स्टेटस के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अपना Registration Number, Email ID या फिर मोबाइल नंबर तथा सिक्योरिटी कोड भरकर सबमिट करना होगा।
  • आपका Grivence Status आप की Computer Screen पर होगा।

Contact Us

  • सबसे पहले आपको Official Website पर जाना होगा। ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। इस होम पेज पर आपको Contact Us का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर Click करना होगा। विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जायेगा। इस पेज पर आपको Contact Numer की डिटेल्स मिल जाएगी।

Helpline Number

हमने अपने इस लेख में प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी आपको प्रदान कर दी है। यदि आप अब भी किसी समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। Helpline Number तथा Email ID कुछ इस प्रकार है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here