प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022: Matru Vandana Yojana ऑनलाइन आवेदन

प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 आवेदन फॉर्म और Matritva Vandana Yojana 2022 पंजीकरण फॉर्म, पंजीकरण प्रक्रिया व हेल्पलाइन नंबर

प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान की जा रही है | गर्भवस्था सहायता योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा  1 जनवरी 2017 को की गयी थी | प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2021 के अंतर्गत पहली बार गर्भधारण करने वाली तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओ को यह आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है | गर्भावस्था सहायता योजना को Matritva Vandana Yojana 2022 के नाम से भी जाना जाता है | प्यारे दोस्तों आज हम इस योजना के बारे में आज हम आपको सम्पूर्ण जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं इसलिए हमारे इस आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़े और योजना के सभी लाभ उठाएं |

Table of Contents

 

Matritva Vandana Yojana 2022

गर्भवती महिला 6000 रूपये का लाभ हमारे देश की सभी गर्भवती महिलाओ को मिल रहा है | जो भी  गर्भवती महिला इस योजना में आवेदन करने की इच्छुक है उन्हें आंगनवाड़ी तथा स्वास्थ्य केंद्र में जाकर तीन आवेदन फॉर्म भरने होंगे | प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 में आवेदन के लिए गर्भवती महिलाओ को  आंगनवाड़ी या निकट स्वास्थय केंद्र में जाकर पंजीकरण फॉर्म भरकर जमा कराना होगा|इस योजना के अंतर्गत महिला तथा बाल विकास मंत्रालय नोडल एजेंसी की तरह कार्य कर रही है | Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana का लाभ पहले जीवित बच्चे को जन्म देने पर ही गर्भवती महिलाओ को प्राप्त होगा | इस योजना के अंतर्गत वही गर्भवती महिलाये आवेदन कर सकती है जिनकी उम्र 19 साल या उससे अधिक है |

Matritva Vandana Yojana

अब दो किस्तों में प्रदान की जाएगी लाभ की राशि

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत महिलाओं को बच्चे का जन्म होने पर ₹6000 की राशि प्रदान की जाती है। यदि परिवार में दूसरी बेटी जन्म लेती है तो स्थिति में भी अब सरकार ₹6000 की राशि प्रदान करेगी। सरकार द्वारा पहले यह राशि 3 किस्तों में प्रदान की जाती थी। Union minister महेंद्र मुंजापारा द्वारा 28 June 2022 को यह जानकारी प्रदान की गई कि अब इस योजना के अंतर्गत 3 की जगह 2 किस्तों में लाभ की राशि प्रदान की जाएगी। यह योजना देश की महिलाओं के स्वास्थ्य में सुधार करने में कारगर साबित होगी। इसके अलावा महिलाओं के जीवन स्तर में भी सुधार आएगा।

आवेदन करने के लिए लांच किया गया उमंग एप

महिलाओं को बेहतर स्वास्थ्य देखभाल की सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए विभिन्न प्रकार की कल्याणकारी योजनाएं संचालित की जाती हैं। जिसके माध्यम से उनको आर्थिक लाभ प्रदान किया जाता है। यह सभी लाभ सभी लाभार्थी महिलाओं तक पहुंच सके इसके लिए सरकार द्वारा निरंतर प्रयास किया जाता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की ओर से उमंग एप जारी किया गया है। इस ऐप के माध्यम से Matritva Vandana Yojana का सेल्फ रजिस्ट्रेशन किया जा सकता है। इस ऐप के माध्यम से ना केवल प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत आवेदन किया जा सकता है बल्कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत भी आवेदन किया जा सकता है।

इस बात की जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुनील कुमार शर्मा जी के द्वारा प्रदान की गई। इसके अलावा विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ भी इस योजना के माध्यम से प्राप्त किया जा सकता है। अब तक प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के माध्यम से 16.49 करोड़ रुपए का भुगतान लाभार्थी महिलाओं को किया जा चुका है। वर्तमान वित्तीय वर्ष में 1.94 करोड़ रुपए का भुगतान किया गया था।

Matritva Vandana Yojana In Highlight

योजना का नामPradhan Mantri Matritva Vandana Yojana
योजना का प्रकारकेंद्र सरकार की योजना
विभागमहिलाओं और बच्चों के विकास मंत्रालय
आवेदन की तिथिआरंभ है
आवेदन की अंतिम तिथिNot Declared
लाभार्थीगर्भवती महिला
लाभRs 6000
आवेदन का माध्यमhttps://wcd.nic.in/

योजना के अंतर्गत उत्तर प्रदेश में हुए 99329 पंजीकरण

गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ की देखभाल करने के लिए एवं उन तक पोषण पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत 7 सितंबर 2021 तक मातृ वंदना सप्ताह मनाया गया है। उत्तर प्रदेश में इस सप्ताह में 99329 गर्भवती महिलाओं के पंजीकरण किए गए हैं। इस सप्ताह की इस बार की थीम मात्र शक्ति राष्ट्र शक्ति रखी गई थी। इस बात की जानकारी इस योजना के नोडल अधिकारी राजेश वांगिया द्वारा प्रदान की गई थी। उत्तर प्रदेश में इस सप्ताह में सबसे ज्यादा पंजीकरण मेरठ में हुए हैं। दूसरे स्थान पर अयोध्या है, तीसरे स्थान पर लखनऊ है, चौथे स्थान पर मुरादाबाद है एवं पांचवे स्थान पर कानपुर है। मेरठ में 10168 पंजीकरण हुए हैं, अयोध्या में 9383 पंजीकरण हुए हैं, लखनऊ में 9046 पंजीकरण हुए है, मुरादाबाद में 6643 पंजीकरण हुए है एवं कानपुर मंडल में 6299 पंजीकरण किए गए हैं।

Matritva Vandana Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए पहली बार गर्भवती होने पर पंजीकरण के लिए गर्भवती और उसके पति का कोई पहचान पत्र या आधार कार्ड, मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड, बैंक पासबुक की फोटो कॉपी होना अनिवार्य है। इसके अलावा बैंक अकाउंट जॉइंट नहीं होना चाहिए। इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को ₹5000 की राशि 3 किस्तों में प्रदान की जाएगी।

सुरक्षित मातृत्व आश्वासन सुमन योजना

यूपी मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत लाभान्वित महिलाएं

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना को पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को पोषण प्रदान करने के उद्देश्य से आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत कोरोना काल में 1 अप्रैल 2020 से 28 जून 2021 तक लखनऊ जिले में कुल 12707 महिलाओं को लाभ पहुंचाया गया है। इस बात की जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ संजय भटनागर द्वारा प्रदान की गई है। इस योजना को 1 जनवरी 2017 से संचालित किया जा रहा है। जिसके तहत पहली बार गर्भवती होने वाली महिला को पोषण के लिए ₹5000 रुपया तीन किस्तों में प्रदान किए जाते हैं। पहली किस्त ₹1000 रुपए की, दूसरी किस्त ₹2000 रुपए की तथा तीसरी किस्त ₹2000 रुपए की होती है।

पहली किस्त की राशि गर्भधारण के 150 दिन के अंदर पंजीकरण करने पर, दूसरी किस्त की राशि 180 दिन के अंदर एवं तीसरी किस्त की राशि प्रसव तथा शिशु के प्रथम टीकाकरण के पश्चात प्रदान की जाती है। प्रत्येक महिला को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ पहुंचाने का प्रयास किया जा रहा है।

लखनऊ जिले की कुल 59738 महिलाओं को पहुंचा योजना का लाभ

यदि आप प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते है तो आप आशा या एएनएम के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। आपके द्वारा इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है। यदि आपके द्वारा आवेदन फॉर्म भरने में किसी भी परेशानी आती है तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 7998799804 है। इस योजना का लाभ सभी महिलाओं को प्रदान किया जाएगा चाहे उनका प्रसव सरकारी अस्पताल में हुआ हो या फिर निजी अस्पताल में हुआ हो।

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana का लाभ प्राप्त करने के लिए गर्भवती महिला तथा उसके पति का आधार कार्ड, गर्भवती की बैंक पासबुक की फोटो कॉपी, मातृ शिशु सुरक्षा कार्ड होना अनिवार्य है। इसके अलावा गर्भवती के बैंक खाता संयुक्त नहीं होना चाहिए। इस योजना के अंतर्गत जनवरी 2017 से 28 जून 2021 तक लखनऊ जिले को 59738 महिलाओं को लाभ प्रदान किया जा चुका है।

Matritva Vandana Yojana लाभ प्रदान करने में मध्य प्रदेश पहले स्थान पर

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना भारत सरकार द्वारा 1 जनवरी 2017 को आरंभ की गई थी। इस योजना को नेशनल फूड सिक्योरिटी एक्ट 2013 के अंतर्गत आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। जिससे कि वह अपने स्वास्थ्य का ध्यान रख सके। वूमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट डिपार्टमेंट द्वारा 15 मार्च 2021 को एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की गई थी। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में यह घोषणा की गई है कि पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी मध्य प्रदेश प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ प्रदान करने में पहले स्थान पर है। इस योजना के अंतर्गत मध्यप्रदेश सरकार द्वारा 942 करोड़ रुपया 22.2 लाख लाभार्थियों को बांटे गए हैं।

मध्य प्रदेश का अगर मालवा, छिंदवाड़ा, शहडोल, सीहोर तथा अलीराजपुर जिले इस योजना के लाभ प्रदान करने पर पहले स्थान पर है। मध्य प्रदेश द्वारा इस योजना के लक्ष्य का 152% लक्ष्य हासिल किया गया है। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा सभी वूमेन एंड चाइल्ड डेवलपमेंट के अधिकारियों तथा कर्मचारियों को इस उपलब्धि के लिए बधाई दी गई है।

कानपुर जिले की 76,293 महिलाओं को

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं Matritva Vandana Yojana को गर्भवती महिलाओं तथा उनके बच्चों को पोषण प्रदान करने के लिए आरंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से गर्भवती महिलाओं को ₹5000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। यह आर्थिक सहायता तीन किस्तों में प्रदान की जाती है। इस योजना को सन 2017 में आरंभ किया गया था। इस योजना के माध्यम से पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को सरकार द्वारा 100% लाभ देने का निर्णय किया गया है। इस योजना के अंतर्गत फरवरी 2021 तक कानपुर जिले की 76,293 महिलाओं को लाभ पहुंचाया जा चुका है। इस योजना के अंतर्गत लाभ की राशि डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से पहुंचाई जाती है।

  • प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ उठाने के लिए लाभार्थी महिला को आशा कर्मचारी, आशा संगिनी आदि के माध्यम से फॉर्म भरना होगा। यह फॉर्म इंचार्ज मेडिकल ऑफिसर के पर्यवेक्षण में भरा जाएगा।
  • फॉर्म भरते समय लाभार्थी को सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे कि आधार कार्ड, बैंक अकाउंट डिटेल, मदर चाइल्ड सिक्योरिटी कार्ड आदि जमा करने होंगे।
  • इस योजना के अंतर्गत विभाग द्वारा हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है। जिससे कि इस योजना के माध्यम से लाभार्थी तक सभी जरूरी जानकारी पहुंचाई जा सके। हेल्पलाइन नंबर 7998799804 है।

Matritva Vandana Yojana ऑनलाइन आवेदन

इस Matritva Vandana Yojana 2022 के अंतर्गत केंद्र सरकार ने आवेदन की प्रक्रिया को ऑनलाइन कर दिया है देश के लोग इस योजना के तहत अब तक ऑफलाइन कर रहे थे अब देश के लोगो को  ऑनलाइन आवेदन की भी सुविधा प्रदान की जा रही है  अब इस योजना के तहत इच्छुक लाभार्थी खुद ही ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। इस Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana 2022 के तहत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लाभार्थी को www.Pmmvy-cas.nic.in पर लॉगिन करके आवेदन करना होगा । अब देश के लोगो को इस योजना का लभ उठाने के लिए कही जाने की आवशकता नहीं होगी अब आप घर बैठे इंटरनेट के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकेंगे।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना दिसंबर अपडेट

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana के अंतर्गत सरकार द्वारा पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को ₹5000 की धनराशि प्रदान की जाती है। इस योजना के अंतर्गत प्रसव की कोई शर्त नहीं है। लाभार्थी प्रसव सरकारी या फिर प्राइवेट किसी भी अस्पताल में करवा सकती हैं। यह धनराशि गर्भवती महिलाओं के पोषण के लिए प्रदान की जाती है। अब इस योजना के अंतर्गत घर बैठे ऑनलाइन आवेदन भी किया जा सकता है। यह सुविधा प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया अभियान के अंतर्गत आरंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए लाभार्थी को आधिकारिक वेबसाइट पर जाना इस योजना के नोडल अधिकारी वीके सिंह द्वारा बताया गया कि प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत एक विशेष अभियान चलाया जा रहा है।

  • यह अभियान 28 दिसंबर 2020 से शुरू होगा तथा 2 जनवरी 2021 तक चलेगा। इस अभियान के अंतर्गत सभी पात्र लाभार्थियों का पंजीकरण किया जाएगा। यदि कोई लाभार्थी ऑफलाइन आवेदन भी करना चाहता है तो यह सुविधा भी उनके लिए उपलब्ध होगी। ऑफलाइन आवेदन पहले की तरह ब्लॉक स्तर पर, संबंधित कार्यालय अथवा आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से किया जा सकेगा।
  • इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए राज्य स्तर हेल्पलाइन नंबर की सुविधा भी आरंभ कि गई है। यह हेल्पलाइन नंबर 7998799804 है। लाभार्थी हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके आवेदन से संबंधित या फिर भुगतान ना होने की समस्या की शिकायत कर सकता है और उसका निराकरण प्राप्त कर सकता है।

मातृत्व वंदना योजना जिला कांगड़ा में पहुंचा महिलाओं को लाभ

जैसा कि आप सभी लोग जानते हैं प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत माताओं को ₹6000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है। यह वित्तीय सहायता उनको तीन किस्तों में प्रदान की जाती है। गर्भधारण के समय मताओ को पहली किस्त दी जाती है। दूसरी किस्त बच्चे के जन्म के समय दी जाती है तथा तीसरी किस्त बच्चे के 6 महीने का होने पर टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी होने पर प्रदान की जाती है। यह राशि उनको महिला एवं बाल विकास विभाग प्रदान करता है। इस योजना के अंतर्गत आंगनवाड़ी वर्कर द्वारा महिला को शादी के बाद पंजीकृत किया जाता है। जिला कांगड़ा में Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana सफलतापूर्वक चल रही है। इस योजना के अंतर्गत अब तक जिला कांगड़ा में ₹12 करोड़ रुपए खर्च किए जा चुके हैं। जिससे कि कई सारी माताओं को लाभ पहुंचा है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 की किश्ते

गर्भवती सहायता योजना 2021 के अंतर्गत गर्भवती महिलाओ को मिलने वाली धनराशि  6000 रूपये  तीन किश्तों में दिए जायेगे पहली किश्त 1000 रूपये गर्भवती महिलाओ को आंगनवाड़ी तथा स्वास्थ्य केंद्र में पंजीकरण कराने के बाद दिए जायेगे | इसके बाद दूसरी किश्त 2000 रूपये गर्भधारण के 6 महीने के अंदर प्रयोगशाला में जांच कराने के बाद दिए जायेगे  तथा तीसरी किश्त 2000 रूपये बच्चे के जन्म पंजीकरण तथा टीकाकरण जैसे (BCG,DPT,OPV) आदि  के बाद दिए जायेगे |

प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 का उद्देश्य

गर्भावस्था सहायता योजना 2022 के ज़रिये आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्ग की गर्भवती स्त्रियों को 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करना है इस योजना के तहत मजदूर वर्ग की स्त्रियाँ जो मजदूरी करती है उन्हें गर्भावस्था के समय 6000 रूपये की आर्थिक सहायता प्रदान करके उचित सुविधाएं जैसे (स्वास्थ्य सम्बन्धी ,उचित खान पान )प्रदान करना है तथा गर्भवती महिलाओ और स्तनपान कराने वाली महिलाओ और उनके बच्चे को कुपोषित होने से बचाना है तथा मृत्यु दर को कम करना है |

प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 के लाभ

  • गर्भावस्था सहायता योजना 2022 का लाभ उन गर्भवती महिलाओ को मिलेगा जो मजदूर वर्ग से है इस वर्ग की गर्भवती महिलाये आर्थिक रूप से कमजोर होने की  वजह से गर्भावस्था के समय अपनी स्वास्थ्य सम्बन्धी ज़रूरतों को पूरा नहीं कर पाती है और पैसे की कमी के कारण अपने बच्चे की परवरिश अच्छे से नहीं कर पाती
  • इस योजना के ज़रिये गर्भवती महिलाये गर्भावस्था के समय की हर ज़रूरत को पूरा कर सकेंगी और बच्चे के जन्म होने के बाद बच्चे की अच्छे से परवरिश कर सकेंगी |
  • Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana के तहत मृत्यु दर में भी कमी आएगी |
  • प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना 2022 के अंतर्गत मिलने वाली धनराशि 6000 रूपये सीधे गर्भवती महिलाओ के बैंक खाते में पहुंचाई जाएगी |
  • इस योजना का लाभ सरकारी नौकरी करने वाली महिलाये नहीं उठा सकती है |

पात्रता (दस्तावेज़ )

  • गर्भावस्था सहायता योजना में आवेदन करने वाली गर्भवती महिलाओ की उम्र 19 वर्ष से काम नहीं होनी चाहिए |
  • इस योजना के अंतर्गत उन महिलाओ को भी पात्र  माना जायेगा जो 1 जनवरी 2017 या उसके बाद गर्भवती हुई है  |
  • राशन कार्ड
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • माता पिता दोनों का आधार कार्ड
  • बैंक खाते की पासबुक
  • माता पिता दोनों का पहचान पत्र

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 में ऑनलाइन आवेदन कैसे करे ?

देश के जो इच्छुक लाभार्थी Matritva Vandana Yojana के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है तो वह नीचे दिए गए तरीके को फॉलो करे।

  • सबसे पहले आपको योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाना होगा। Official Website पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जायेगा। इस होम पेज पर आपको Login Form दिखाई देगा।
  • आपको इस लॉगिन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी जैसे Email ID, Paasword , Captcha Code आदि भरनी होगी। सभी जानकारी भरने के बाद आपको Login के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • लॉगिन करने के बाद आप इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। आपको आवेदन फॉर्म में पूछी गयी सभी जानकारी भरनी होगी।  सभी जानकारी भरने के बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 में आवेदन कैसे करे ?

  • Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana का लाभ उठाने के आप ऑफलाइन आवेदन कर सकते है
  • गर्भवती महिलाओ को इस योजना में आवेदन के लिए तीन फॉर्म (पहला फॉर्म ,दूसरा फॉर्म ,तीसरा फॉर्म) भरने  होंगे
  • सर्वप्रथम गर्भवती महिलाए  आंगनवाड़ी तथा निकट  स्वास्थ्य केंद्र में जाकर पंजीकरण के लिए पहला फॉर्म  लेकर और  उसमे पूछी गयी सभी जानकारी भरकर जमा कर दीजिये |
  • इसके बाद आपको आंगनवाड़ी तथा निकट स्वास्थ्य केंद्र में जाकर नियमित समय समय पर दूसरा फॉर्म ,तीसरा फॉर्म  भरकर वही जमा कर दीजिये |
  • तीनो फॉर्म भरने के बाद आंगनवाड़ी तथा निकट स्वास्थ्य केंद्र वाले आपको एक स्लिप देंगे |गर्भवती सहायता योजना 2020 का आवेदन फॉर्म आप महिला तथा बाल विकास मंत्रालय की ऑफिसियल वेबसाइट http://wcd.nic.in/से डाउनलोड कर सकते है | इस प्रकार आपका ऑफलाइन आवेदन पूरा हो जायेगा |

बेनेफिशरी लॉगिन करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको Matritva Vandana Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको बेनेफिशरी लॉगइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको Email ID, Paasword तथा Captcha Code दर्ज करना होगा।
  • अब आपको Login के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप बेनेफिशरी लॉगिन कर पाएंगे।

नए उपयोगकर्ता के पंजीकरण की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको बेनिफिशियरी लॉगइन के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको For Registraring New User Click Here के लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि लाभार्थी का नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी, पासवर्ड, कैप्चा कोड आदि दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Register के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • इसके बाद आपको Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप पंजीकरण कर पाएंगे।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना फॉर्म प्रिंट करने की प्रक्रिया

  • सर्वप्रथम आपको प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • होम पेज पर आपको Download PMMVY Form के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने दो ऑप्शन खुल कर आएंगे जो की कुछ इस प्रकार है।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने Form PDF Format में खुलकर आ जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड करके प्रिंट कर सकते हैं।

Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana Helpline Number

इन योजना के तहत आवेदन करने वाली आवेदकों को आवेदन करने में कोई परेशानी या दिक्कत आ रही है उनके लिए केंद्र सरकार ने हेल्पलाइन नंबर जारी किये है । मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर हरगोविंद सिंह जी ने बताया है कि इस योजना के तेहेर पहली बार गर्भधारण करने पर महिलाओ को पांच हज़ार की धनराशि तीन किश्तों में प्रदान कि जाएगी ये धनराशि सीधे लाभार्थी के बैंक account में ट्रांसफर की जाएगी अगर आपको इसलिए आवेदन करने में कोई परेशानी आ रही है तो आप 7998799804 Helpline Number पर संपर्क कर सकते है। इसके अलावाजिला कार्यक्रम समन्वयक सुमन शुक्ला के मोबाइल नंबर 9096210825 पर संपर्क कर सकते है और जिला कार्यक्रम सहायक रितेश चौरसिया के मोबाइल नंबर 7905920818 पर संपर्क कर सकते है |

Important Download

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here