{रजिस्ट्रेशन} मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना 2022: ऑनलाइन आवेदन, Tirth Yatra Yojana

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया चेक करे और Mukhymantri Tirth Yatra Yojana 2022 लाभ, उद्देश्य, विशेषता व स्टेटस देखे

नमस्कार दोस्तों, सरकार ने दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों के लिए एक नई योजना मुख्यमंत्री दिल्ली मुफ्त तीर्थ यात्रा योजना शुरू की है। सरकार के पास पहले से ही वरिष्ठ नागरिकों को आत्म निर्भर बनाने के लिए कई योजनाएं थीं। भारत एक धार्मिक देश है और तीर्थ यात्रा का भी बहुत महत्व है। दिल्ली के कुछ वरिष्ठ नागरिक वित्त की कमी के कारण तीर्थ यात्रा के लिए जाने में असमर्थ हैं। सरकार ने यह मुफ्त तीर्थ यात्रा योजना उन वरिष्ठ नागरिकों के लिए शुरू की है जो स्वयं यात्रा के लिए जाने का जोखिम नहीं उठा सकते हैं। आज इस लेख में हमने पूरी योजना से संबंधित जानकारी का खुलासा किया; कृपया योजना के बारे में अधिक जानने के लिए एक नज़र डालें।

Delhi Tirth Yatra Yojana- मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना 2022

इस योजना के तहत, सरकार दिल्ली के उस नागरिक को मौका प्रदान कर रही है जो अपने स्वयं के खर्च किए गए धन के लिए तीर्थ यात्रा में जाने में असमर्थ है। मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना दिल्ली के लिए कोई ऑफ़लाइन पंजीकरण प्रक्रिया उपलब्ध नहीं है, आप अपना पंजीकरण दिल्ली ई-डिस्ट्रिक्ट वेब पोर्टल पर ऑनलाइन मोड के माध्यम से कर सकते हैं। इस योजना के तहत सरकार यात्रा, भोजन, निवास आदि जैसे सभी खर्चों को वहन करेगी। इस योजना के तहत सभी सुविधाएं सरकार द्वारा निःशुल्क प्रदान की जाएंगी।

बुजुर्गों को जगन्नाथ पुरी यात्रा के लिए भेजेगी दिल्ली सरकार

दिल्ली सरकार द्वारा शुरू की गई मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत राज्य के बुजुर्ग नागरिकों को धार्मिक तीर्थ स्थलों की फ्री में यात्रा कराई जाती है इस योजना के अंतर्गत दिल्ली सरकार द्वारा जगन्नाथ पुरी यात्रा को भी हरी झंडी दिखा दी गई है राज्य के बुजुर्गों के लिए दिल्ली सरकार यह यात्रा फ्री में कराएगी पिछले 2 वर्षों से कोविड-19 की वजह से रथ यात्रा का आयोजन नहीं हो सका था मगर इस वर्ष 1 जुलाई 2022 से रथ यात्रा का आयोजन फिर से शुरू किया जाएगा दिल्ली सरकार द्वारा भी 11 जुलाई एवं 28 जुलाई को दो ट्रेनें जगन्नाथ पुरी के लिए रवाना होंगी

प्रधानमंत्री वय वंदना योजना 

मई 2022 में योजना के अंतर्गत रवाना की जाएंगी तीन ट्रेनें

Delhi Tirth Yatra Yojana के अंतर्गत 8 मई 2022 को रामेश्वरम के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी। मई 2022 में इस योजना के अंतर्गत 3 तीर्थ स्थलों के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी। अब तक इस योजना के अंतर्गत 58 ट्रेन रवाना की जा चुकी है। जिसमें 58 हजार बुजुर्गों ने यात्रा की है। इस माह के अंत तक कुल ट्रेनों की संख्या बढ़कर 61 हो जाएगी। 8 मई 2022 को रामेश्वरम के बाद 18 मई को गुजरात के द्वारका और 28 मई को जगन्नाथपुरी के लिए ट्रेन सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रवाना की जाएगी। इस बात की जानकारी दिल्ली सरकार की तीर्थ यात्रा विकास समिति के चेयरमैन कमल बंसल द्वारा प्रदान की गई।

इस योजना को 12 जुलाई 2019 को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा आरंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत पहली ट्रेन अमृतसर के लिए रवाना की गई थी। अब तक इस योजना के अंतर्गत अधिकतम ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना की जा चुकी है। तीर्थ यात्रियों में महिलाओं की संख्या 68 प्रतिशत से ज्यादा दर्ज की गई है।

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के मुख्य अंश:

योजना का नाममुख्यमंत्री दिल्ली मुफ़्त तीर्थ यात्रा योजना
घोषणादिल्ल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा
लांच तिथिजनवरी, 2018
लक्ष्यवरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा करवाना
क्रियान्वयनअगस्त, 2018
यात्रा की शुरुवात4 सितंबर
ऑनलाइन पोर्टलedistrict.delhigovt.nic.in

वृद्ध आश्रम में रहने वाले नागरिक को को भी जल्द भेजा जाएगा तीर्थ यात्रा पर

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा 12 अप्रैल 2022 को यह जानकारी प्रदान की गई थी उनकी सरकार दिल्ली के वृद्ध आश्रम में रहने वाले वरिष्ठ नागरिकों को भी मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत तीर्थ यात्रा पर भेजेगी। इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री जी के द्वारा पूर्वी दिल्ली में चौथे वृद्ध आश्रम बाबा साहेब डॉक्टर भीमराव अंबेडकर वरिष्ठ नागरिक ग्रह का उद्घाटन करते हुए प्रदान की गई। इस योजना को 2020 और 2021 में कोरोना महामारी के कारण आयोजित नहीं किया गया था। लेकिन अब सरकार द्वारा इसे फिर से आरंभ किया जाएगा।

वृद्ध आश्रम में रहने वाले नागरिकों को भी तीर्थ यात्रा पर भेजा जाएगा। इस योजना के माध्यम से द्वारका, हरिद्वार, ऋषिकेश, मथुरा, वृंदावन, अयोध्या, अजमेर शरीफ आदि जैसे तीर्थ स्थलों पर नागरिकों को भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री जी के द्वारा यह भी जानकारी प्रदान की गई थी दिल्ली में अभी केवल 4 वृद्ध आश्रम है और पचवा वृद्ध आश्रम जल्दी बनकर तैयार हो जाएगा।

दिल्ली रोजगार बाजार

अप्रैल 2022 में 6 ट्रेनों को किया गया योजना के अंतर्गत शेड्यूल

दिल्ली सरकार द्वारा अप्रैल 2022 के लिए मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत 6 ट्रेनों को शेड्यूल किया गया है। यह ट्रेन 14 से 29 अप्रैल तक भेजी जाएंगी। इस योजना के अंतर्गत अब तक 52 ट्रेनें अलग-अलग स्थलों पर जा चुकी हैं। अप्रैल माह में 6 और ट्रेनें भेजी जाएंगी। 14 अप्रैल को सफदरजंग रेलवे स्टेशन से रामेश्वर के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी। जिसके बाद 17 अप्रैल को द्वारकाधीश तीर्थ स्थल के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी। 20 अप्रैल को शिरडी के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी। 24 अप्रैल को फिर से रामेश्वरम के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी। 26 अप्रैल को द्वारकाधीश एवं 29 अप्रैल को तिरुपति बालाजी तीर्थ स्थल के लिए ट्रेन रवाना की जाएगी।

अब तक इस योजना का लाभ लगभग 52000 नागरिकों को प्राप्त हुआ है। इस योजना का शुभारंभ जुलाई 2019 में किया गया था। मुख्यमंत्री जी के द्वारा पहली ट्रेन दिल्ली से अमृतसर के लिए भेजी गई थी। अब तक इस योजना के माध्यम से सबसे ज्यादा ट्रेनें रामेश्वरम के लिए भेजी जा चुकी है। इस योजना के अंतर्गत महिला यात्रियों की संख्या 68% से अधिक है।

14 फरवरी 2022 से किया जाएगा योजना का दोबारा से आरंभ

दिल्ली सरकार द्वारा मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को दोबारा से आरंभ करने का निर्णय लिया गया है। जिसके लिए पहली ट्रेन 14 फरवरी 2022 को गुजरात के द्वारकाधीश के लिए रवाना की जाएगी एवं दूसरी ट्रेन 18 फरवरी 2022 को रामेश्वरम के लिए रवाना की जाएगी। इस योजना के माध्यम से दिल्ली के वरिष्ठ नागरिकों को तीर्थ यात्रा पर भेजा जाता है। डेढ़ महीने के बाद यह योजना दोबारा से आरंभ होने जा रही है। तीर्थ यात्रा पर द्वारकाधीश एवं रामेश्वरम जाने के लिए बड़ी संख्या में दिल्ली के नागरिकों ने आवेदन किया है।

इसके अलावा अधिकारियों द्वारा यह भी जानकारी प्रदान की गई है कि इस योजना के कार्यान्वयन के संबंध में चर्चा की गई है। जिसके पश्चात फिलहाल दो ट्रेनों का शेड्यूल किया गया है। आगे इस योजना के अंतर्गत कुछ और ट्रेनें भी तीर्थ यात्रा के लिए रवाना की जाएगी। जिसके माध्यम से दिल्ली के नागरिकों को तीर्थ स्थलों के दर्शन करवाए जाएंगे।

दूसरी ट्रेन 10 दिसंबर को की जाएगी अयोध्या के लिए रवाना

जैसे कि आप सभी लोग जानते हैं दिल्ली के बुजुर्गों को अलग-अलग तीर्थ स्थलों के दर्शन करवाने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना का शुभारंभ किया गया था। कोरोना संक्रमण के कारण इस योजना को रोक दिया गया था। लगभग 23 महीने बाद इस योजना को दोबारा से आरंभ किया गया है। जिसके लिए दिसंबर 2021 से लेकर फरवरी 2022 तक का शेड्यूल बनाया जा रहा है। इस योजना के अंतर्गत 3 दिसंबर 2021 को अयोध्या के लिए लगभग 1000 तीर्थ यात्रियों का पहला जत्था रवाना किया गया था। 10 दिसंबर को दूसरी ट्रेन को भी अयोध्या के लिए ही रवाना किया जाएगा। जिसके लिए तीर्थयात्रियों की लिस्ट तैयार की जा रही है।

विभिन्न अन्य तीर्थ स्थलों पर भी भेजा जाएगा तीर्थ यात्रियों को

आने वाले 2 महीनों में दिल्ली के बुजुर्गों को विभिन्न तीर्थ स्थलों पर दर्शन करने के लिए भेजा जाएगा। जिसमें रामेश्वरम, द्वारकाधीश, उज्जैन, जगन्नाथपुरी, तिरुपति बालाजी, शिरडी आदि शामिल है। इन सभी स्थलों का शेड्यूल तैयार किया जा रहा है। इसके अलावा करतारपुर साहिब के लिए बस के माध्यम से यात्रियों का पहला जत्था 5 जनवरी 2022 को रवाना किया जाएगा एवं दिल्ली से वैलंकन्नी यात्रा के लिए यात्रियों की पहली ट्रेन 7 जनवरी 2022 को रवाना की जाएगी। सभी तीर्थ स्थलों के शेड्यूल से संबंधित जानकारी जल्द नागरिकों को भी प्रदान की जाएगी।

विभिन्न सूत्रों से जानकारी सामने आई है कि इस योजना के कार्यान्वयन को लेकर राज्य मंत्री द्वारा दिल्ली टूरिज्म एंड ट्रांसपोर्टेशन डेवलपमेंट कॉरपोरेशन और इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कारपोरेशन के अधिकारियों के साथ बैठक की गई थी। इस बैठक में ट्रेनों के आगमी शेड्यूल को लेकर चर्चा की गई है। जनवरी में करीब 7 से 8 ट्रेनें भेजी जा सकते हैं। फरवरी का शेड्यूल अभी बनाया जा रहा है।

अयोध्या के लिए रवाना किए जाएंगे 1000 तीर्थयात्री

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत 3 दिसंबर 2021 को एक जत्था अयोध्या के लिए रवाना किया जाएगा। जिसमें 1000 लोग शामिल होंगे। इस योजना के अंतर्गत अक्टूबर 2021 में दिल्ली की कैबिनेट द्वारा अयोध्या को मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत शामिल करने का निर्णय लिया गया था। अब दिल्ली के नागरिक अयोध्या का दौरा मुफ्त में कर सकेंगे। इस योजना के अंतर्गत पहली ट्रेन 1000 तीर्थ यात्रियों को लेकर अयोध्या के लिए 3 दिसंबर 2021 को रवाना की जाएगी। इस बात की जानकारी तीर्थ यात्रा विकास समिति के अध्यक्ष कमल बंसल द्वारा दी गई है। तीर्थ यात्रा के लिए अयोध्या समेत विभिन्न तीर्थ स्थलों के लिए बड़ी संख्या में योजना के अंतर्गत आवेदन भी प्राप्त किए जा रहे हैं। अन्य स्थलों पर भी तीर्थ यात्रियों को जल्द भेजा जाएगा।

दिल्ली सरकार द्वारा रामेश्वरम, शिरडी, मथुरा, हरिद्वार, तिरुपति जैसे स्थानों सहित 13 सर्किट पर तीर्थ यात्रियों को भेजा जाएगा। जिस का पूरा खर्च दिल्ली सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। प्रत्येक तीर्थयात्री अपने साथ 21 वर्ष या फिर उससे अधिक आयु का एक नागरिक साथ ले जा सकता है। जिसका खर्च भी दिल्ली सरकार द्वारा ही वहन किया जाएगा।

दिल्ली गरीब विधवा बेटी और अनाथ बालिका शादी योजना

15 नवंबर 2021 से किया जा सकता है योजना को फिर से आरंभ

15 नवंबर 2021 से मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना को फिर से आरंभ किया जा सकता है। जिसकी पहली यात्रा अयोध्या के लिए हो सकती है। इस योजना को जनवरी 2018 में आरंभ किया गया था। यह योजना पिछले डेढ़ साल से कोरोनावायरस संक्रमण के कारण रुकी हुई थी। मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के लिए दिल्ली सरकार का राजस्व विभाग नोडल एजेंसी है। इसके अलावा तीर्थ यात्रियों की यात्रा और ठहराने की व्यवस्था दिल्ली पर्यटन और परिवहन विकास निगम के माध्यम से की जाएगी। पिछले सप्ताह एक बैठक का भी आयोजन किया गया था। जिसके अंतर्गत इस योजना को फिर से शुरू करने के बारे में चर्चा की गई।

  • इस योजना को 4 मार्गों पर फिर से शुरू किया जा सकता है जो कि अयोध्या, अमृतसर, रामेश्वरम एवं वैष्णो देवी है। इस योजना के माध्यम से घर से लौटने तक का पूरा खर्च दिल्ली सरकार द्वारा वाहन किया जाता है। जिसमें वातानुकूलित ट्रेन से यात्रा करना, उचित एसी होटल में ठहराना, भोजन, स्थानीय यात्रा आदि शामिल है।
  • बुजुर्ग अपनी मदद के लिए किसी एक युवा को भी अपने साथ ले जा सकते हैं। जिसका खर्च भी सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदकों द्वारा ऑनलाइन आवेदन जमा करना होगा। इसके अलावा आवेदन संभागीय आयुक्त के कार्यालय, क्षेत्र के विधायक के कार्यालय या तीर्थ यात्रा समिति के कार्यालय में जाकर भी किया जा सकता है। इस योजना के अंतर्गत लाभार्थियों का चयन ड्रॉ के माध्यम से किया जाता है।

योजना के अंतर्गत शामिल किया जाएगा अयोध्या को

Mukhymantri Tirth Yatra Yojana के माध्यम से दिल्ली के बुजुर्गों को तीर्थ यात्रा दिल्ली सरकार द्वारा करवाई जाती है। जिसका पूरा खर्च दिल्ली सरकार द्वारा वहन किया जाता है। यह यात्रा कई तीर्थ स्थल पर आयोजित की जाती है जिसमें हरिद्वार, द्वारकापुरी, महाराज रामेश्वरम, शिर्डी, वैष्णो देवी, अजमेर आदि शामिल है। अब दिल्ली सरकार द्वारा राम जन्मभूमि अयोध्या को भी इस योजना के अंतर्गत शामिल करने का निर्णय लिया गया है। इस बात की घोषणा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा 27 अक्टूबर 2021 को की गई थी। कोरोनावायरस संक्रमण के कारण फिलहाल यह योजना रुकी हुई है लेकिन इस योजना को नवंबर 2021 के तीसरे हफ्ते से फिर से आरंभ करने की व्यवस्था की जा रही है।

तीर्थ यात्रा पर जाने वाली आखरी ट्रेन 2 जनवरी 2020 को रवाना की गई थी। 12 जुलाई 2019 को सफदरजंग रेलवे स्टेशन से अमृतसर के लिए पहली ट्रेन रवाना की गई थी। 12 जुलाई 2019 से 20 जनवरी 2020 तक इस योजना के माध्यम से 36 ट्रेन अलग-अलग स्थानों पर रवाना की गई है। जिसके माध्यम से लगभग 35000 से अधिक दिल्ली के नागरिकों द्वारा तीर्थ यात्रा की गई है।

Tirth Yatra Yojana के अंतर्गत इन स्थलों के लिए रवाना की गई ट्रेन

  • रामेश्वरम 9 ट्रेन
  • तिरुपति 5 ट्रेन
  • द्वारकाधीश 6 ट्रेन
  • अमृतसर 4 ट्रेन
  • वैष्णो देवी 4 ट्रेन
  • शिरडी 3 ट्रेन
  • जगन्नाथपुरी 2 ट्रेन
  • उज्जैन 2 ट्रेन
  • अजमेर 1 ट्रेन

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना मार्च अपडेट

14 मार्च 2021 को दिल्ली के मुख्यमंत्री श्री अरविंद केजरीवाल जी के द्वारा वित्तीय वर्ष 2021–22 के 69000 करोड़ रुपए के बजट की घोषणा की गई है। इस घोषणा के दौरान मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत दिल्ली के बुजुर्ग नागरिकों को रामलला के दर्शन करने के लिए अयोध्या तीर्थ यात्रा पर ले जाने का फैसल किया गया। इस यात्रा का पूरा खर्च दिल्ली सरकार द्वारा वाहन किया जाएगा। तीर्थ यात्रियों के साथ डॉक्टर तथा पैरामेडिकल स्टाफ की टीम भी भेजी जाएगी। वह सभी नागरिक जिनकी आयु 70 वर्ष या फिर उससे ज्यादा है वह अपने साथ एक अटेंडेंट को भी ले जा सकते हैं।

  • इस योजना के माध्यम से अब दिल्ली के नागरिकों को अयोध्या तीर्थ यात्रा करने का अवसर प्राप्त होगा।
  • Tirth Yatra Yojana के अंतर्गत प्रतिवर्ष प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र से 1000 तीर्थ यात्रियों का चयन किया जाएगा। सभी चिन्हित तीर्थ यात्रियों को ₹100000 तक की एक्सीडेंटल बीमा कवरेज भी प्रदान की जाएगी। इस योजना के माध्यम से अब दिल्ली के नागरिकों का तीर्थ यात्रा करने का सपना पूरा हो सकेगा।

यात्रा के दौरान मिलने वाली सुविधाएं

इस यात्रा में लोगों को वातानुकूलित ट्रेन, आवास, भोजन, बोर्डिंग, ठहरने और अन्य व्यवस्थाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। वहीं 21 साल से ज्यादा की उम्र का एक अटेंडेंट हर बुजुर्ग यात्री के साथ जा सकता है। अगर आप भी इन सभी सुविधाओं का लाभ उठाना चाहते है तो इस योजना के तहत अपना आवेदन करवा सकते है। योजना के अंतर्गत सरकार 77,000 वरिष्ठ नागरिकों को मुफ्त में तीर्थाटन कराएगी।

Tirth Yatra Yojana ट्रैवल पैकेज

दिल्ली-मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सीकरी-दिल्ली5 दिन
दिल्ली-हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ-दिल्ली4 दिन
दिल्ली-अजमेर-पुष्कर-नाथद्वारा-हल्दीघाटी-उदयपुर-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-अमृतसर-वाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब-दिल्ली4 दिन
दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू-दिल्ली5 दिन
दिल्ली-रामेश्वरम-मदुरै-दिल्ली8 दिन
दिल्ली-तिरुपति बालाजी-दिल्ली7 दिन
दिल्ली-द्वारकाधीश-नागेश्वर-सोमनाथ-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-जगन्नाथ पुरी-कोणार्क-सोमनाथ-दिल्ली7 दिन
दिल्ली-शिरडी-शनि शिंगलापुर-त्रियामकेश्वर-दिल्ली5 दिन
दिल्ली-उज्जैन-ओंकारेश्वर-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-बोधगया-सारनाथ-दिल्ली6 दिन
दिल्ली-अयोध्या-दिल्ली4 दिन

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना नई अपडेट

जैसे आप सभी लोग जानते है पूरे भारत देश के कोरोना वायरस का संक्रमण दिन प्रतिदिन फैलता जा रहा है जिसकी वजह से देश के लोग जूझ रहे है इसी कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण को देखते हुए दिल्ली सरकार ने Tirth Yatra Yojana पर रोक लगा दी है। जिससे इस संक्रमण को फैलने के रोका जा सके। इस योजना के अंतर्गत राज्य के वरिष्ठ नागरिको को फ्री में यात्रा कराई जा रही थी इस योजना के तहत सारा खर्च सरकार द्वारा वहां किया जा रहा है

दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना के अंतर्गत कवर किए गए स्थान

  • दिल्ली-मथुरा-वृंदावन-आगरा-फतेहपुर सीकरी-दिल्ली
  • दिल्ली-हरिद्वार-ऋषिकेश-नीलकंठ-दिल्ली
  • दिल्ली-अजमेर-पुष्कर-दिल्ली
  • दिल्ली-अमृतसर- बाघा बॉर्डर-आनंदपुर साहिब-दिल्ली
  • दिल्ली-वैष्णो देवी-जम्मू-दिल्ली

सीएम तीर्थ यात्रा योजना के दस्तावेज़ (पात्रता )

  • आवेदक दिल्ली का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • तीर्थयात्रा योजना में लाभ उठाने के लिए उम्र 60 साल या अधिक हो। हर वरिष्ठ नागरिक के साथ 18 साल या उससे अधिक उम्र का एक सहायक तीर्थ यात्रा पर जा सकता है।
  • इस योजना के तहत सरकारी अधिकारी और एम्पलॉई में भाग नहीं ले सकते। एक सीनियर सिटीजन अपने जीवन में एक बार ही तीर्थ यात्रा योजना का लाभ ले सकते हैं।
  • बुजुर्ग नागरिक की सालाना आय 3 लाख रुपए से कम होनी चाहिए। 71 साल या इससे अधिक उम्र के लोगों को इसमें 21 साल तक के एक अटेंडेंट ले जाने की भी सुविधा होगी। सभी ट्रेन वातानुकूलित होंगी।
  • आवेदक का आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक अकाउंट पासबुक
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया– Registration Tirth Yatra Yojana

इस यात्रा के लिए खुद को पंजीकृत करने के लिए आवेदकों को नीचे दिए गए चरणों का पालन करना होगा

  • यात्रा के लिए पंजीकरण करने के लिए Official Website खोलें।
  • अब “ई-डिस्ट्रिक्ट दिल्ली में पंजीकरण” अनुभाग से “नया उपयोगकर्ता” पर क्लिक करें
  • वहां “आधार कार्ड” या “वोटर कार्ड” चुनें और दस्तावेज़ नं दर्ज करें।
  • अब कैप्चा कोड दर्ज करें और चेकबॉक्स पर टिक करें
  • जारी रखें” विकल्प पर क्लिक करें और पंजीकरण फॉर्म दिखाई देता है
  • फॉर्म में शेष जानकारी दर्ज करें और स्कैन की गई छवि अपलोड करें
  • आवेदन पत्र जमा करें और पंजीकरण आईडी और पासवर्ड याद रखें
  • अब साइट पर लॉगइन करें और mukhymantri tirth yatra yojana के लिए आवेदन करें

आवेदन की स्थिति खोजने की प्रक्रिया

  • आधिकारिक वेबसाइट खोलें |
  • मुख पृष्ठ से आपको सेवाओं के अनुभाग से “अपने एप्लिकेशन को ट्रैक करें” विकल्प पर क्लिक करना होगा
  • विभाग का नाम “राजस्व विभाग” चुनें
  • फिर “mukhymantri tirth yatra yojana” चुनें
  • आवेदन संख्या और आवेदक का नाम दर्ज करें
  • अब कैप्चा दर्ज करें स्क्रीन पर दिखाई देता है
  • खोज विकल्प पर क्लिक करें और स्क्रीन पर आपकी एप्लिकेशन स्थिति दिखाई देगी

Grievance दर्ज करने की प्रक्रिया

  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा जिसमें ग्रीवेंस फॉर्म होगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे कि आपका Name, Mobile Number, Email ID आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको Submit के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस दर्ज कर पाएंगे।

ग्रीवेंस स्टेटस ट्रैक करने की प्रक्रिया

  • अब आपके सामने एक नया पेज खोलकर आएगा जिसमें आपको Gievance, Mobile Number तथा Captcha Code दर्ज करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको Search के बटन पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप ग्रीवेंस स्टेटस ट्रैक कर पाएंगे।

Contact Information

हमने अपने इस लेख के माध्यम से दिल्ली मुख्यमंत्री तीर्थ यात्रा योजना से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान कर दी है। यदि आप अभी भी किसी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हैं तो आप हेल्पलाइन नंबर पर संपर्क करके या फिर ईमेल लिखकर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर तथा इमेल आईडी कुछ इस प्रकार है।

  • Helpline Number- 011-23935730, 011-23935731, 011-23935732, 011-23935733, 011-23935734
  • Email Id- [email protected]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here