10 C
London
Tuesday, January 31, 2023

नृत्य करने वाली – बारह राजकुमारियों की कहानी | Bara Rajkumari Ki Kahani

एक समय की बात है किसी देश में एक राजा राज किया करता था। उसकी बारह राजकुमारियां थीं, जिनसे वह अपनी जान से भी ज्यादा प्यार करता था। यही वजह थी कि राजा को सभी राजकुमारियों की सुरक्षा की बहुत चिंता रहती थी।

राजकुमारियों के प्रति प्यार और चिंता के कारण राजा ने सभी राजकुमारियों के सोने का इंतजाम एक ही कक्ष में कर रखा था। राजा के सोने के बाद सभी राजकुमारियों के कक्ष के बाहर ताला लगा दिया जाता था। इसके बावजूद हर रात राजकुमारियां नए जूते पहनकर सोती थीं और अगली सुबह उनके जूते घिसे और फटे मिलते थे। सभी राजकुमारियों के रात भर कक्ष में रहने के बावजूद अगले दिन उनके जूते घिसे और फटे मिलना राजा को भी काफी हैरान कर देता था।

राजा ने इस बात की जानकारी के लिए कई प्रकार के प्रयास किए, लेकिन फिर भी इस रहस्य से पर्दा नहीं उठ सका कि हर सुबह राजकुमारियों के नए जूते फटे और घिसे क्यों मिलते थे। एक बात की सच्चाई पता लगाने के लिए एक दिन राजा ने घोषणा करवा दी कि जो भी राजकुमारियों के इस रहस्य के बारे में जानकारी देगा, उसका विवाह राजा उस व्यक्ति की पसंद की अपनी किसी भी एक बेटी के साथ करवा देगा। विवाह के साथ ही उस व्यक्ति को भविष्य में राज्य का राजा भी बनाया जाएगा।

इस प्रकार की घोषणा सुनकर कई राजकुमारों ने प्रयास किया, लेकिन सभी असफल रहे। एक दिन उस राज्य से एक बहुत छोटे देश का राजकुमार गुजर रहा था, जो किसी राजा के हाथों अपना राज्य गवां चुका था। वह एक नदी के किनारे पहुंच कर जैसी ही अपने थैले से बचा हुआ खाना निकालकर खाने लगा, वैसे ही वहां पर एक बुढ़िया आ गई और राजकुमार से खाना मांगने लगी।

राजकुमार ने बिना कुछ सोचे अपना भोजन उस बुढ़िया को दे दिया। बुढ़िया ने खाना खाकर उसे उस राज्य की घोषणा के बारे में बताया और जाते-जाते उसे एक जादूई चोंगा दे गई। उस जादुई चोंगे की खास बात यह थी कि जो भी उसे ओढ़ता वह गायब हो जाता था।

राजा की घोषणा सुनने के बाद राजकुमार वह जादुई चोंगा लेकर राजदरबार पहुंच गया। उसने राजा से घोषणा को पूरा करने की आज्ञा मांगी। राजा ने यह कहते हुए आज्ञा दे दी कि इसके पहले जिसने भी प्रयास किया वह असफल रहा और उसे मृत्यु दंड दिया जा चुका है।

राजा की बात सुनकर राजकुमार ने कहा कि कोई बात नहीं, उसे यह शर्त मंजूर है। फिर राजा ने उसे राजकुमारियों के बगल वाला कक्ष सोने के लिए दे दिया और उसके खाने-पीने का बढ़िया इंतजाम किया गया। जब रात हो चली तो सोने के वक्त सबसे बड़ी राजकुमारी एक जूस से भरा गिलास लेकर आई। राजकुमार ने जूस ले लिया और राजकुमारी वहां से चली गई।

राजकुमार ने जूस नहीं पिया और खिड़की से फेंक दिया। कुछ देर के बाद सोने का नाटक करने लगा। जब राजकुमारियों को लगा कि राजकुमार सो चुका है, तो सभी राजकुमारियां कहीं जाने की तैयारी करने लगीं। इस बात का आभास होते ही राजकुमार ने चोंगा ओढ़ लिया और सभी राजकुमारियों पर गायब होकर नजर रखने लगा।

राजकुमारियों के कमरे में जाकर राजकुमार ने देखा कि सभी राजकुमारियां सज धज कर कमरे के बीच में गोला बनाकर खड़ी हो गईं और कुछ गुनगुनाने लगीं। तभी कमरे के बीचों-बीच अचानक एक गड्ढा नजर आने लगा, जिसमें से सभी राजकुमारियां एक जादुई स्थान पर चली गईं। राजकुमारियों के पीछे-पीछे राजकुमार भी चला गया। वहां पर 12 राजकुमार उनका इंतजार कर रहे थे। सभी राजकुमारियां उन राजकुमारों के साथ जंगल की ओर जाने लगती हैं। रास्ते में चांदी के पेड़, सोने के पेड़ और अन्य जवाहरात के पेड़ मिलते गए। राजकुमार हर पेड़ से एक-एक पत्ती तोड़कर अपने पास रखने लेता।

जंगल में कुछ दूर जाने के बाद एक महल दिखाई दिया, महल में जाने के बाद वहां अपने आप ही एक मधुर संगीत बजने लगा। उस मधुर संगीत की धुन पर सभी राजकुमारियां राजकुमारों के साथ नाचने लगीं। उस धुन पर वह राजकुमार भी झूमने लगा। वे सभी वहां पर सुबह होने के पहले तक नाचते रहे और सुबह होने के पहले ही वहां से चले गए।

सभी राजकुमार राजकुमारियों को छोड़ने के लिए जंगल के बाहर तक आए और राजकुमारियां वहां से अपने कमरे में आ गईं। राजकुमारियों के साथ ही चोंगा पहने हुआ राजकुमार भी वहां आ गया और चुपके से अपने कमरे में चला गया।

सुबह होते ही राजकुमार को राजा ने दरबार में बुलाया और रहस्य के बारे में पूछा। राजकुमार ने राजा को जंगल से तोड़ी गई सोने और चांदी की पत्तियां दिखाते हुए रात की पूरी घटना के बारे में बताया। जब राजा ने राजकुमारियों से इस बारे में पूछा तो सभी राजकुमारियों ने हामी भरते हुए सिर हिलाया।

इस बात को सुनकर राजा ने राजकुमार की शादी उसकी पसंद की सबसे छोटी राजकुमारी के साथ करवा दी और उसे उस राज्य का राजा बना दिया। नया राजा अपनी रानी के साथ सूख पूर्वक रहने लगा। कुछ दिनों के बाद वह राजकुमारियों के साथ उस रहस्यमयी महल की ओर गया और अन्य राजकुमारियों की शादी उन राजकुमारों के साथ करवा दी, जिनके साथ वे सभी रात में नाचने जाती थीं। इसके बाद सभी खुशी-खुशी रहने लगे।

कहानी से सीख:

हमें हमेशा मुश्किल समय में हिम्मत से काम लेना चाहिए और अपनी बुद्धि का इस्तेमाल करते हुए हर समस्या का हल निकालना चाहिए।

Latest news
Related news

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here